Home /News /world /

ईरान के सुप्रीम लीडर का ट्विटर अकाउंट क्यों हुआ बैन? ट्रंप से क्या है कनेक्शन?

ईरान के सुप्रीम लीडर का ट्विटर अकाउंट क्यों हुआ बैन? ट्रंप से क्या है कनेक्शन?

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई.

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई.

Sayyid Ali Hosseini Khamenei Twitter Account Suspend: समाचार आउटलेट ईरान इंटरनेशनल ने रविवार को बताया कि ट्विटर ने ईरानी सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई से जुड़े एक अकाउंट को परमानेंट तौर पर सस्पेंड कर दिया गया है. ट्विटर के प्रवक्ता ने भी कहा कि हमारी नीतियों का उल्लंघन करने के कारण इस अकाउंट को प्रतिबंधित किया गया है. ट्विटर ने हालांकि इस मामले में ज्यादा जानकारी देने से इनकार कर दिया.

अधिक पढ़ें ...

    तेहरान. ईरान (Iran) के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई (Sayyid Ali Hosseini Khamenei)से जुड़ा एक ट्विटर अकाउंट बैन कर दिया गया है. इस अकाउंट से हाल में ही अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) की हत्या का एनिमेटेड वीडियो जारी किया गया था. KhameneiSite नाम का यह ट्विटर अकाउंट ईरानी सर्वोच्च नेता के कार्यालय से ऑपरेट किया जाता था. इस अकाउंट से पहले भी कई बार ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या का बदला लेने की बात कही गई थी.

    ट्विटर ने भी जारी किया बयान
    समाचार आउटलेट ईरान इंटरनेशनल ने रविवार को बताया कि ट्विटर ने ईरानी सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई से जुड़े एक अकाउंट को परमानेंट तौर पर सस्पेंड कर दिया गया है. ट्विटर के प्रवक्ता ने भी कहा कि हमारी नीतियों का उल्लंघन करने के कारण इस अकाउंट को प्रतिबंधित किया गया है. ट्विटर ने हालांकि इस मामले में ज्यादा जानकारी देने से इनकार कर दिया.

    Video: क्या हमास की जासूसी के लिए डॉल्फिन को ट्रेनिंग दे रहा इजराइल?

    वीडियो में क्या नजर आया?
    गुरुवार को खामेनेई की आधिकारिक वेबसाइट ने “रिवेंज इज डेफिनिट” शीर्षक से एक एनीमेशन वीडियो पोस्ट किया था. इसमें ईरानी सैन्य अधिकारियों को एक ऐसे व्यक्ति की ओर एक एडवांस सर्विलांस और अनमैंड कॉम्बेट व्हीकल्स को जाते हुए दिखाया गया, जो ट्रंप की तरह गोल्फ खेलते हुए नजर आता है. फुटेज के अंत में यूसीवी को ऑपरेट कर रहा शख्स ट्रंप जैसे दिखने वाले आदमी पर गाड़ी में लगी बंदूक का निशाना लगाए दिखता है.

    कौन हैं खामेनेई?
    अयातुल्‍लाह खामेनेई के दादा सैय्यद अहमद मसूवी उत्तर प्रदेश के बाराबंकी के रहने वाले थे. 1830 के दशक में वह अवध के नवाब के साथ धार्मिक यात्रा पर इराक और फिर ईरान गए थे. लेकिन इसके बाद यहां से उनके लौटने का ही मन नहीं किया और वो वहां के खामेनेई गांव में बस गए.

    अब ISIS से भिड़ने की तैयारी में तालिबान! सेना में शामिल कर रहा आत्‍मघाती दस्‍ते

    डाइचे वेले के मुताबिक उनके बाद की पीढ़ी ने खामेनेई को अपने सरनेम की तरह इस्‍तेमाल किया और आज ये नाम ईरान के सबसे ताकतवर शख्‍स के साथ जुड़ा है. ईरान की क्रांति के सफल होने से पहले तक ईरान के शाह की हुकूमत में खामेनेई को भारतीय मुल्‍ला और एजेंट तक भी कहा जाता था. लेकिन आज वो ईरान के सुप्रीम लीडर हैं.

    Tags: Donald Trump, Iran

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर