सेना की परेड में ​उ. कोरिया के सुप्रीम लीडर किम के छलके आंसू, जनता से मांगी माफी

उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर नेता किम जोंग उन सेना की परेड में रो पड़े. फोटो: AP
उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर नेता किम जोंग उन सेना की परेड में रो पड़े. फोटो: AP

उत्तर कोरिया (North Korea) के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन (Kim Jong Un) सेना की परेड में रो पड़े. किम जोंग उन की प्रसिद्धि एक तानाशाह शासक के रूप में रही है. दुनिया में उन्हें उनकी सनक के लिए जाना जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2020, 11:42 AM IST
  • Share this:
सिओल. उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर (North Korea Leader) किम जोंग उन (Kim Jong Un) सेना की परेड में रो पड़े. उन्होंने सेना का धन्यवाद करते हुए कहा कि सैनिकों ने देश के लिए बहुत बलिदान दिए हैं. उन्होंने कहा कि हाल ही में आए तूफान और कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) के दौरान सैनिकों ने लोगों की मदद के लिए बहुत कुर्बानियां दीं. तानाशाह शासक के रूप में प्रसिद्ध किम जोंग ने कहा कि वे देश के नागरिकों की जिंदगी बेहतर कर पाने में विफल रहे. वे देश की सत्ताधारी पार्टी की 75वीं वर्षगांठ पर आयोजित हुए कार्यक्रम में शामिल हुए थे. उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया में एक भी व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं हुआ है. वहीं संयुक्त राष्ट्र ने जानकारी दी है कि उत्तर कोरिया की 40 फीसदी जनता को बाढ़ और तूफान के दौरान अनाज के संकट से गुजरना पड़ा.

जनता के साथ खड़ा नहीं रह पाने के लिए मांगी माफी
किम जोंग उन की ख्याति एक तानाशाह शासक के रूप में रही है. दुनिया में उन्हें उनकी सनक के लिए जाना जाता है. ऐसे में सार्वजनिक रूप से उनकी आंखों से छलके आंसू मीडिया की सुर्खियां बनना तय थे. दरअसल किम जोंग ने कोविड-19 महामारी के दौरान उत्तर कोरिया की जनता के साथ जरूरत के मुताबिक नहीं खड़े रह पाने की वजह से माफी मांगी है. इस दौरान वे इतने भावुक हो गए कि अपने आंसुओं पर काबू नहीं पा सके.

अपने पूर्वजों की विरासत का किया गुणगान
किम जोंग ने अपने पूर्वजों की विरासत का जिक्र करते हुए उनके महान कार्यों का हवाला दिया और कहा, 'हालांकि, मुझे इस देश का नेतृत्व करने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई है, महान कॉमरेड किम इल-सुंग और किम जोंग-इल के दिखाए रास्ते पर चलने के लिए मुझ पर विश्वास जताने के लिए सभी लोगों का धन्यवाद, लेकिन मेरी ईमानदार कोशिशें हमारे लोगों को उनके जीवन में आने वाली परेशानियों से छुटकारा दिलाने के लिए पर्याप्त नहीं रह पाईं.'



मिलिट्री परेड में बैलिस्टिक मिसाइलों का हुआ प्रदर्शन
शनिवार को इस कार्यक्रम के दौरान उत्तर कोरिया ने एक बड़ी मिलिट्री परेड में अपनी नई मिसाइल का प्रदर्शन किया था, जो कि उसके किसी भी अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों से ज्यादा बड़ी थी. उत्तर कोरिया की इस कार्रवाई पर रविवार को ही दक्षिण कोरिया ने चिंता जाहिर करते हुए उसे निरस्त्रीकरण के वादे याद दिलाए थे.

ये भी पढ़ें:-
ट्रंप की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, फ्लोरिडा में रैली की और कहा- मैं पहले से पॉवरफुल
US Elections 2020 में 'ट्रंप हटाओ, अमेरिका बचाओ' जैसे हिंदी में लग रहे हैं नारे

दक्षिण कोरिया ने किम जोंग की सरकार से बातचीत की फिर से शुरुआत करने के लिए भी कहा था. इससे पहले पिछले ही महीने किम जोंग उन ने अपने सैनिकों की ओर से दक्षिण कोरियाई नागरिक की हत्या के लिए माफी मांगी थी. दक्षिण कोरिया के मुताबिक उसके एक नागरिक को उत्तर कोरिया के सैनिकों ने संदिग्थ डिफेक्टर मानकर गोली मार दी थी. वह व्यक्ति दक्षिण कोरिया के फिशरीज डिपार्टमेंट का कर्मचारी था, जिससे घंटों पूछताछ के बाद उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी और कोरोना वायरस से बचाव के नाम पर उसके शव को भी जला दिया था। इस घटना की वजह से दोनों देशों में पहले से ही जारी तनाव और बढ़ गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज