• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • खुफिया विभाग के मंत्री ने पश्चिमी देशों को चेताया- परमाणु परियोजना पर आगे बढ़ सकता है ईरान

खुफिया विभाग के मंत्री ने पश्चिमी देशों को चेताया- परमाणु परियोजना पर आगे बढ़ सकता है ईरान

ईरान के शीर्ष नेता अयातुल्ला अली खामनेई (फाइल फोटो)

ईरान के शीर्ष नेता अयातुल्ला अली खामनेई (फाइल फोटो)

ईरान में सभी मामलों पर अंतिम फैसला देने वाले खामेनी ने रविवार को अमेरिका से कहा था कि अगर वह चाहता है कि ईरान 2015 के परमाणु समझौते के सभी प्रावधानों को माने तो उसपर लगे सभी प्रतिबंधों को हटाना होगा.

  • Share this:

    तेहरान. ईरान के खुफिया मामलों के मंत्री ने पश्चिमी देशों को चेताया कि अगर देश पर लागू किए गए कठोर अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध जारी रहे तो तेहरान परमाणु हथियार (Nuclear Weapon) विकसित करने की दिशा में आगे बढ़ सकता है. सरकारी टीवी चैनल ने मंगलवार को यह खबर दी. मंत्री मोहम्मद अल्वी का यह बयान बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि विरले मौके पर ही किसी सरकारी अधिकारी ने यह कहा है ईरान अपनी परमाणु परियोजना को फिर से शुरू कर सकता है. तेहरान हमेशा से कहता रहा है कि उसकी परियोजना शांतिपूर्ण है.

    देश के सुप्रीम नेता अयातुल्ला अली खामेनी ने 1990 के दशक में जारी फतवे में कहा था कि परमाणु हथियार निषिद्ध हैं. खबर के अनुसार, अल्वी ने कहा, ‘‘हमारी परमाणु परियोजना शांतिपूर्ण है और सुप्रीम नेता का फतवा परमाणु हथियारों को वर्जित ठहराता है. लेकिन अगर ईरान को उस दिशा में धकेला गया तो वह ईरान की नहीं, बल्कि उनकी गलती होगी.’’ हालांकि, अल्वी ने कहा कि मौजूदा स्थिति में ईरान की योजना परमाणु हथियार विकसित करने की दिशा में बढ़ने की नहीं है. लेकिन उन्होंने यह भी कहा, ‘‘अगर किसी बिल्ली की भी बात करें तो यदि उसे चारों ओर से घेर किया जाए तो वह भी असामान्य व्यवहार कर सकती है.’’

    ये भी पढ़ें- कौन हैं इंडियन नेवी के जांबाज कमांडो, जो उत्तराखंड में पानी का सैलाब चीर जानें बचा रहे हैं

    खामेनी ने अमेरिका से कही थी ये बात
    ईरान में सभी मामलों पर अंतिम फैसला देने वाले 81 वर्षीय खामेनी ने रविवार को अमेरिका से कहा था कि अगर वह चाहता है कि ईरान 2015 के परमाणु समझौते के सभी प्रावधानों को माने तो उसपर लगे सभी प्रतिबंधों को हटाना होगा. हालांकि, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन कह चुके हैं कि उनका प्रशासन इस दिशा में पहले कदम नहीं बढ़ाएगा.

    गौरतलब है कि अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने परमाणु समझौते से देश को अलग कर लिया था.

    (Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज