कश्मीर मुद्दा: अमेरिकी सांसद ने ही निकाली ट्रंप के दावे की हवा, कहा- मोदी कभी नहीं करेंगे ऐसा

ब्रैड शेरमैन ने कहा, 'जो भी दक्षिण एशिया की विदेश नीति के बारे में कुछ भी जानता है, वह जानता है कि कश्मीर मसले में भारत लगातार तीसरे पक्ष की मध्यस्थता का विरोध करता रहा है. सभी जानते हैं कि पीएम मोदी कभी ऐसी बात नहीं करेंगे. ट्रंप का बयान गलत बिल्कुल बेबुनियाद है.'

News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 11:02 AM IST
कश्मीर मुद्दा: अमेरिकी सांसद ने ही निकाली ट्रंप के दावे की हवा, कहा- मोदी कभी नहीं करेंगे ऐसा
डोनाल्ड ट्रंप की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 11:02 AM IST
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जम्मू-कश्मीर पर दिए गए बयान को लेकर फंस गए हैं. अमेरिका के ही सांसद ने ही उनकी दावे की हवा निकाल दी है. डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद ब्रैड शेरमैन ने राष्ट्रपति ट्रंप के कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने के दावों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि सभी जानते हैं कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कभी ऐसी बात नहीं करेंगे. डोनाल्ड ट्रंप का बयान गलत और शर्मनाक है.

इमरान खान ने उठाया कश्‍मीर का मुद्दा, ट्रंप बोले- हम करेंगे मध्‍यस्‍थता

ब्रैड शेरमैन ने कहा, 'हर कोई जो दक्षिण एशिया की विदेश नीति के बारे में कुछ भी जानता है, वह जानता है कि कश्मीर मसले में भारत लगातार तीसरे पक्ष की मध्यस्थता का विरोध करता रहा है. सभी जानते हैं कि पीएम मोदी कभी ऐसी बात नहीं करेंगे. ट्रंप का बयान गलत बिल्कुल बेबुनियाद है.'

ये हैं ट्रंप का बयान

बता दें कि गलत बयान देने के लिए सुर्खियों में रहने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ मीडिया से बातचीत की. इस दौरान कश्मीर मसले पर किए गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने के लिए कहा था. ट्रंप ने कहा, 'मैं दो हफ्ते पहले प्रधान मंत्री मोदी के साथ था और हमने इस विषय (कश्मीर) के बारे में बात की. और उन्होंने वास्तव में कहा, 'क्या आप मध्यस्थ या मध्यस्थ बनना चाहेंगे? मैंने कहा, 'कहाँ?' (मोदी ने कहा) 'कश्मीर'.

डोनाल्ड ट्रंप और इमरान खान


ट्रंप ने कहा कि वह मदद के लिए तैयार हैं, अगर दोनों देश इसके लिए कहें. बता दें कि भारत पाकिस्तान के आतंकवादियों द्वारा जनवरी 2016 में पठानकोट में वायु सेना के ठिकाने पर हमले के बाद से पाकिस्तान से बातचीत बंद है.
Loading...

विदेश मंत्रालय ने बयान को किया खारिज
वहीं, विदेश मंत्रालय ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के जम्मू-कश्मीर से जुड़े बयान पर सफाई दी है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, 'कश्मीर मसले पर भारत को तीसरे पक्ष की मध्यस्थता स्वीकार नहीं है. भारत ने स्पष्ट कहा है कि पाक से केवल द्विपक्षीय बातचीत होगी.'

विदेश मंत्रालय का ट्वीट


संसद में कश्मीर का मुद्दा उठाएगी कांग्रेस
इस बीच विपक्ष भी इस मुद्दे को संसद में उठाने वाला है. कांग्रेस ने ट्रंप के इस बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सफाई मांगी है. फिलहाल पीएमओ की तरफ से इसपर कोई बयान नहीं आया है.

इमरान खान से मुलाकात में डोनाल्ड ट्रंप ने सुनाया अपना ये दुखड़ा

व्हाइट हाउस की विज्ञप्ति में कश्मीर मुद्दे का जिक्र कहीं नहीं
ट्रंप-इमरान की मुलाकात के बाद दोनों ही देशों के शीर्ष नेताओं ने व्हाइट हाउस में मौजूद मीडिया से भी बात की. इस दौरान भी ट्रंप ने कश्मीर मुद्दे को लेकर अपनी बात दोहराई. हालांकि व्हाइट हाउस की ओर से जारी की गई लंबी प्रेस विज्ञप्ति में कश्मीर मुद्दे का कहीं भी उल्लेख नहीं किया गया है. उसमें केवल दक्षिण एशिया की बात की गई.

ब्रैड शेरमैन का ट्वीट


 

ट्रंप लगा चुके हैं पाकिस्तान पर धोखा देने के आरोप
दोनों नेताओं के बीच बातचीत ट्रंप के पाकिस्तान पर झूठ बोलने और छल करने का आरोप लगाने के 6 महीने बाद आई हैं. यह अगस्त, 2018 में पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली अमेरिका यात्रा है.

ट्रंप ने पिछले साल ओसामा बिन लादेन को अपने क्षेत्र में छिपाने में मदद करने के लिए इस्लामाबाद पर आरोप लगाए थे. उन्होंने कहा था कि भले ही पाकिस्तान को वॉशिंगटन से हर साल 1.3 अरब डॉलर मिले, मगर वह इसके लिए अमेरिका के लिए कुछ भी करने में नाकाम रहा है.

यह भी पढ़ें: अमेरिका में फिर हुई इमरान खान की फजीहत, सभा में लगे बलूचिस्तान की आज़ादी के नारे
First published: July 23, 2019, 9:52 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...