लाइव टीवी

दुनिया के 50 से ज्यादा देशों में कोरोना वायरस की दहशत, बढ़ते मामलों से महामारी की आशंका

News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 4:43 PM IST
दुनिया के 50 से ज्यादा देशों में कोरोना वायरस की दहशत, बढ़ते मामलों से महामारी की आशंका
चीन के बाहर बाकी दुनिया में कोरोना वायरस पैर पसार रहा है

चीन के बाद कोरोना वायरस के संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले इटली, दक्षिण कोरिया और ईरान में सामने आए हैं लेकिन अब ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और इस्रायल तक में इसकी शुरुआत हो चुकी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 4:43 PM IST
  • Share this:
चीन (China) के वुहान (Wuhan) से शुरू हुआ कोरोना वायरस (Corona Virus) का संक्रमण अब तक 50 देशों में पहुंच चुका है.एशिया, यूरोप और मध्य पूर्व देशों में कोरोना वायरस दस्तक दे चुका है और अब उसका प्रकोप दिखना शुरू हो गया है.  कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की तादाद में लगातार इज़ाफा होता जा रहा है. चीन के बाद ईरान, इटली और दक्षिण कोरिया में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे थे. लेकिन अब ब्रिटेन, फ्रांस और जापान में भी कोरोना वायरस के मरीज सामने आ रहे हैं.

इस्रायल में कोरोना वायरस का संक्रमण 

कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर इस्रायल ने शुरुआत में ही जरूरी ऐहतियात बरती थी लेकिन इसके बावजूद इस्रायल में भी नया मामला सामने आने से हड़कंप मच गया है. इस्राइल ने तकरीबन दो सप्ताह पहले से ही चीन, हांग कांग, मकाऊ, सिंगापुर, थाईलैंड, जापान और दक्षिण कोरिया से लोगों के आने पर रोक लगा दी थी. लेकिन नया मामला उस शख्स के रूप में सामने आया जो कि हाल ही में इटली से आया है. इस्राइल में अब तक 3 कोरोना वायरस के संक्रमण से जुड़े 3 मामले हो चुके हैं. इस्राइल के लिए चिंता की बात ये है कि जो पहला शख्स कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था उसे क्वारेंटाइन में नहीं रखा गया था. ऐसे में उस मरीज़ के ज़रिए दूसरों में संक्रमण फैलने की आशंका बढ़ गई है.

ब्रिटेन में बढ़ रही है तादाद



इंग्लैंड में भी  दो और मरीजों में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है. इस तरह ब्रिटेन में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की तादाद 15 पहुंच गई है. ब्रिटेन के हेल्थ डिपार्टमेंट के मुताबिक ये संक्रमण इटली के जरिए पहुंचा है. हालांकि इससे पहले जिन 13 मरीजों में कोरोना वायरस का टेस्ट पॉज़िटिव पाया गया था उनमें से 8 लोगों को स्वास्थ में सुधार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. इन 8 लोगों में से 4 वो लोग थे जिन्हें जापान के योकोहामा पोर्ट में खड़े डायमंड प्रिसेस क्रूज़ में यात्रा के दौरान कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ था.

फ्रांस के राष्ट्रपति ने जताई महामारी की आशंका

ब्रिटेन और यूरोप में कोरोना वायरस की दस्तक अब दहशत बनने लगी है. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैंक्रो ने कोरोना वायरस के प्रकोप को एक गंभीर संकट बताया और कहा कि महामारी आ रही है. मैंक्रों पेरिस के एक अस्पताल में डॉक्टरों से बातचीत कर रहे थे.

चीन में मामले घटे लेकिन दुनिया में बढ़े 

ऐसा पहली बार हो रहा है कि कोरोना वायरस के प्रकोप के शुरू होने के बाद बीजिंग के मुकाबले कोरोना वायरस के नए मामले दूसरे देशों से ज्यादा आ रहे हैं. इटली, ईरान और दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में तेजी से इज़ाफ़ा होता जा रहा है.  WHO ने खुद इस पर चिंता जताई है और  गंभीर स्थिति बताया है. WHO के मुताबिक 36 देशों से कोरोना वायरस के संक्रमण के 427 मामले सामने आए हैं जबकि चीन ने आधिकारिक रूप से 411 नए मामलों की जानकारी दी थी. दुनिया में कुल 80980 मामलों में अकेले चीन में 96.5% मामले हैं. जबकि दक्षिण कोरिया में अब तक कोरोना वायरस के संक्रमण के 1261 मामले सामने आ चुके हैं. जिसमें 99 प्रतिशत मामले अकेले दाएगु शहर के हैं.

बाकी दुनिया में कोरोना वायरस से 40 मौत

चीन में अब तक कोरोना वायरस से 2715 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 78 हज़ार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं. हालांकि बुधवार को 52 मौतों की पुष्टि हुई है जिसे कि पिछले 3 सप्ताह के मुकाबले कम माना जा रहा है. जबकि बाकी दुनिया में कोरोना वायरस के संक्रमण से अबतक 40 मौतें हो चुकी हैं और 2700 से ज्यादा संक्रमण के केस सामने आए हैं.चीन में बीजिंग के हेल्थ कमिशनर ने कहा है कि शहर के लोगों को 14 दिनों के लिए क्वारेंटाइन में रखा जाएगा.

लैटिन अमेरिकी देश ब्राज़ील में कोरोना वायरस के संक्रमण का पहला मामला सामने आया. इसी तरह क्रोएशिया, ऑस्ट्रिया और स्विटज़रलैंड में भी एक एक मामले सामने आ चुके हैं जबकि बुधवार को ग्रीस और नॉर्वे ने भी अपने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के एक-एक मामले की पुष्टि की थी.

जबकि पाकिस्तान में भी दो मामले सामने आए हैं. बताया जा रहा है कि संक्रमित व्यक्ति ईरान से पाकिस्तान अपने परिवार के साथ लौटा है.

इटली में कोरोना वायरस के संक्रमण से 10 की मौत

इटली में अब तक कोरोना वायरस से 10 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 374 मामले दर्ज हुए हैं. प्रशासन ने 11 कस्बों को लॉक डाउन कर दिया है. वहीं लोम्बार्डी में कोरोना वायरस से संक्रमित एक मरीज के जरिए कई लोगों में संक्रमण फैलने के मामले में जांच भी शुरू हो गई है. जांच के दौरान ये देखा जाएगा कि हॉस्पिटल ने कोरोना वायरस के संक्रमित शख्स के उपचार में क्या तरीके अपनाए. जांचकर्ता ये पता लगाएंगे कि क्या मेडिकल स्टॉफ की लापरवाही के चलते कोरोना वायरस से संक्रमित पहले शख्स की सही तरीके से जांच नहीं हो सकी जिसकी वजह से तमाम दूसरे स्वास्थकर्मी भी संक्रमण के शिकार हो गए .

दरअसल इटली में कोरोना वायरस से संक्रमित पहले शख्स को ही 'सुपर-स्प्रेडर' माना जा रहा है जिसने कई लोगों में संक्रमण फैलाया. माना जा रहा है कि इस शख्स के जरिए 5 लोगों में संक्रमण फैला और फिर दूसरे 8 लोगों में संक्रमण फैलने में भी इसका ही हाथ बताया गया. दरअसल ये शख्स 36 घंटे अस्पताल में भर्ती रहा और इस दौरान कोरोना वायरस टेस्ट के पहले ही अस्पताल के चार डॉक्टरों के संपर्क में आ चुका था और बाद में इसके संक्रमण का पता चला.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 8:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर