लाइव टीवी
Elec-widget

रूस: गायों को VR सेट पहनाकर बढ़ाया जा रहा दूध का उत्पादन

News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 10:39 AM IST
रूस: गायों को VR सेट पहनाकर बढ़ाया जा रहा दूध का उत्पादन
गायों को वीआर सेट में ऐसे वीडियो दिखाए जाते हैं, जिसमें हरी घास हो.

कृषि और खाद्य मंत्रालय (Ministry of Agriculture and Food) की ओर से यह पहल की गई है. वीआर सेट (VR sets) तकनीक से गायों की बैचेनी और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को कम करने में मदद मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 10:39 AM IST
  • Share this:
मास्को. रूस (Russia) की राजधानी मास्को (Moscow) में गायों के दूध का उत्पादन बढ़ाने के लिए अजीबो-गरीब तरीका निकाला गया है. यहां गायों को वीआर (वर्चुअल रिएलिटी) सेट पहनाकर दूध का उत्पादन बढ़ाया जा रहा है. किसानों ने दावा किया है कि इस तकनीक से गायों ने ज्यादा दूध देना शुरू कर दिया है. किसानों के लिए यह पहल कृषि और खाद्य मंत्रालय (Ministry of Agriculture and Food) की ओर से की गई है.

द वज की खबर के मुताबिक गायों को पहनाए जाने वाले वीआर सेट में ऐसे वीडियो चलाए जाते हैं, जिनमें गायों को पसंद आने वाले रंग और हरी घास और खुला मैदान दिखाई दे. विशेषज्ञों ने दावा किया है कि इन वीडियो को देखने के बाद उनका मूड ठीक होता है और दुग्ध उत्पादन बढ़ता है. विशेषज्ञों ने बताया कि इससे गायों की एंग्जाइटी भी कम हुई है. किसानों ने बताया कि जब से उन्होंने वीआर तकनीक का इस्तेमाल किया है, तब से उनकी गाय ज्यादा स्वस्थ रहती हैं, जिसके कारण उनका फायदा बढ़ गया है.

Russia, Moscow, VR Reality, Milk, Ministry of Agriculture and Food
वीआर हेडसेट तकनीक से गायों की स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी कम हुई हैं.


विशेषज्ञों के मुताबिक वीआर हेडसेट, रोबोट्स और ड्रोन जैसी तकनीक का इस्तेमाल करने से डेयरी और पशु पालन में क्रांति आई है. वीआर हेडसेट तकनीक से गायों की बैचेनी और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को कम करने में मदद मिलेगी.




इसे भी पढ़ें :- किसानों को इन शर्तों पर मिलेगा सबसे बड़ी स्कीम का फायदा

क्यों पड़ी वीआर सेट के इस्तेमाल की जरूरत
रूस का मौसम हमेशा खराब रहता है. यहां पर बर्फबारी काफी होती है इससे वहां पर हरियाली काफी कम रहती है. यही कारण है कि किसान अपनी गायों को फार्म में ही रखते हैं. वीआर सेट का इस्तेमाल करने से गायों को अपने आसपास हरी घाय और खुला मैदान दिखाई देता है. इससे गायों को वो सभी चीज मिलती है, जो उनके दुग्ध उत्पादन की क्षमता बढ़ाने के लिए जरूरी होती है.

इसे भी पढ़ें :- पॉली हाउस तकनीक से शिमला मिर्च की खेती कर किसान बदल रहे अपनी तकदीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 10:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...