होम /न्यूज /दुनिया /पत्रकारों के खिलाफ बढ़ा अपराध, 86 फीसदी हत्यारों को नहीं मिली कोई सजा- UNESCO

पत्रकारों के खिलाफ बढ़ा अपराध, 86 फीसदी हत्यारों को नहीं मिली कोई सजा- UNESCO

पत्रकारों की अधिकांश हत्याओं में कोई सजा नहीं- UNESCO (फोटो-रॉयटर्स)

पत्रकारों की अधिकांश हत्याओं में कोई सजा नहीं- UNESCO (फोटो-रॉयटर्स)

संयुक्त राष्ट्र (United Nation) की एक एजेंसी ने बुधवार को बताया कि दुनियाभर में पत्रकारों की हत्याओं के लिए सजा नहीं दी ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

UNESCO ने कहा कि पत्रकारों के खिलाफ अपराध बढ़ा है
उसके अनुसार 86 फीसदी हत्यारों को नहीं मिली कोई सजा
2020 और 2021 की अवधि में 117 पत्रकारों की हत्या हुई

पेरिस. संयुक्त राष्ट्र (United Nation) की एक एजेंसी ने बुधवार को बताया कि दुनियाभर में पत्रकारों की हत्याओं के लिए सजा नहीं दी जाती है. संयुक्त राष्ट्र सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) जिसके कामकाज में मीडिया मुद्दे भी शामिल हैं, उसने कहा कि पत्रकारों की हत्याओं के लिए दंड से मुक्ति 86 प्रतिशत तक है.

यूनेस्को ने कहा, “यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक उपाय होने होंगे ताकि पत्रकारों के खिलाफ किए गए अपराधों की उचित जांच की जाए और उनके अपराधियों की पहचान की जाए और उन्हें दोषी ठहराया जाए.” संगठन के मुताबिक पत्रकारों की हत्याएं अपने उच्च दर पर हैं, जो कि चौंकाने वाला आंकड़ा है. यूनेस्को के महानिदेशक ऑड्रे अज़ोले ने एक बयान में कहा, “अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा नहीं की जा सकती है जब इतनी बड़ी संख्या में अनसुलझे मामले हैं.” अपराधियों को दंड मुक्त कर देने से पत्रकारों की रिपोर्टिंग पर गहरा प्रभाव पड़ा है.

रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 और 2021 की अवधि में 117 पत्रकारों की हत्या उनके काम करने के लिए की गई थी, 91 ऐसे पत्रकार थे जो ऑफ ड्यूटी थे. इसमें कहा गया, “उनके बच्चों सहित परिवार के सदस्यों के सामने कई लोगों की हत्या कर दी गई.” यूनेस्को ने कहा कि वह राष्ट्रीय मीडिया कानूनों और नीतियों को विकसित करने और लागू करने के लिए सदस्य देशों के साथ काम कर रहा है. यह न्यायाधीशों, अभियोजकों और सुरक्षा बलों को “पत्रकारों के अधिकारों को लागू करने और यह सुनिश्चित करने के लिए प्रशिक्षण दे रहा था कि उनके खिलाफ हमलों की जांच और मुकदमा चलाया जाए.” (एफपी से इनपुट के साथ)

Tags: Crime report, Journalist, UNESCO

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें