खतरनाक बीमारियों की गिरफ्त में पाकिस्‍तान के ज्‍यादातर पुलिस अधिकारी

खतरनाक बीमारियों की गिरफ्त में पाकिस्‍तान के ज्‍यादातर पुलिस अधिकारी
पाकिस्‍तान की पुलिस फोर्स में गंभीर बीमारियों के मामले बढ़ रहे हैं.

अधिकारियों का कहना है कि विभिन्न बीमारियों का इलाज करा रही पुलिस फोर्स पर वेलफेयर फंड से करीब 7 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2020, 3:05 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
इस्‍लामाबाद. पाकिस्‍तान (Pakistan) में 3 हजार से ज्‍यादा पुलिस अधिकारी खतरनाक बीमारियों के शिकार हैं. 'सिटी 42 न्‍यूज' में प्रकाशित एक रिपोर्ट के हवाले से बताया गया है कि लाहौर (Lahore) समेत पंजाब (Punjab) भर में साढ़े तीन हजार से ज्‍यादा पुलिस के जवान और कर्मी अलग-अलग गंभीर बीमारियों की गिरफ्त में हैं. इनमें कैंसर और दिल की बीमारियां भी शामिल हैं.

कैंसर जैसी बीमारियों से जूझ रहे अधिकारी
जानकारी के मुताबिक पंजाब पुलिस के नुमाइंदे सबसे ज्‍यादा हेपेटाइटिस से पीड़ित हैं. इसके मरीजों की तादाद 3 हजार से ज्‍यादा है. वहीं पुलिस में कैंसर के 60 मामले हैं. इसकेे अलावा 44 ऐसे लोग भी हैं, जो दिल से संबंधित बीमारियों के शिकार हैं. वहींं गुर्दे की बीमारियों से पीड़ित मरीजों की तादाद 31 बताई गई है. इनका अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है.

पुलिसकर्मी मानसिक बीमारियों के शिकार भी



पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक लीवर के रोग से पीड़ित मरीजों की तादाद 18 बताई गई है. वहीं इन पुलिस कर्मियों में मानसिक बीमारियों के मामले भी सामने आ रहेे हैं. इस तरह की बीमारियों से प्रभावित 13 लोगों की पहचान की गई है. वहीं स्किन, डायबिटीज, टीबी और अन्य सांस से संबंधित बीमारियों


में करीब 264 लोग अपना इलाज करवा रहे हैं.

ज्‍यादातर की मौत बीमारियों की वजह से
रिकॉर्ड के मुताबिक एक साल में पंजाब पुलिस के 381 कर्मी विभिन्‍न बीमारियों की वजह से मौत के शिकार हुए हैं. वहीं दिल का दौरा पड़ने से 79 कर्मियों की मौत हो चुकी है. इसी तरह कैंसर से जूझ रहे 11 पुलिस अधिकारी मौत के आगे विवश हो गए. वहीं डायबिटीज से 7 की मौत हुई, तो हैपेटाइटिस से 6 लोगों ने अपनी जान गंवाई. इसके अलावा ब्रेन ट्यूमर से 5 और किडनी फेल होने से 4 लोगों की मौत हुई. कुल मिला कर विभाग में इस तरह की 199 मौत हुईं.

इनके इलाज पर अब तक 7 करोड़ रुपये खर्च
वहीं अधिकारियों का कहना है कि विभिन्न बीमारियों का इलाज करा रहे पुलिस अधिकारियों और कर्मियों पर वेलफेयर फंड से करीब 7 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं.

ये भी पढ़ें - कोरोना के खौफ में जी रहे पाकिस्‍तानियों के लिए चुनौती बना कांगो वायरस

               कोरोना के सवाल पर भड़कीं पाकिस्तानी मंत्री, कहा- भौंकते हो, जान निकाल दूंगी...

 
First published: March 22, 2020, 3:03 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading