लाइव टीवी

महातिर मोहम्मद के इस्तीफे के बाद मलेशिया के नए प्रधानमंत्री नामित किए मोहिउद्दीन यासीन

भाषा
Updated: February 29, 2020, 5:15 PM IST
महातिर मोहम्मद के इस्तीफे के बाद मलेशिया के नए प्रधानमंत्री नामित किए मोहिउद्दीन यासीन
मलेशिया के पूर्व गृह मंत्री मोहिउद्दीन यासीन को शुक्रवार को नया प्रधानमंत्री नामित किया गया

राजमहल के अधिकारियों ने बताया कि मोहिउद्दीन रविवार को पद की शपथ लेंगे. इसी के साथ महातिर के प्रधानमंत्री के तौर पर इस्तीफा देने और सुधारवादी सरकार के गिरने के बाद एक हफ्ते तक चले सियासी संकट के भी समाप्त होने की संभावना है.

  • Share this:
कुआलालंपुर. मलेशिया (Malaysia) के पूर्व गृह मंत्री मोहिउद्दीन यासीन (Muhyiddin Yassin) को शुक्रवार को नया प्रधानमंत्री नामित किया गया. शाही अधिकारियों ने यह जानकारी दी जो महातिर मोहम्मद (Matahir Mohammad) के शासन के खात्मे और घोटालों के आरोपों से घिरी पार्टी के सत्ता में लौटने के संकेत देती है.

राजमहल के अधिकारियों ने बताया कि मोहिउद्दीन रविवार को पद की शपथ लेंगे. इसी के साथ महातिर के प्रधानमंत्री के तौर पर इस्तीफा देने और सुधारवादी सरकार के गिरने के बाद एक हफ्ते तक चले सियासी संकट के भी समाप्त होने की संभावना है.

'राष्ट्र की भलाई के लिए देश को सरकार की जरूरत'
राजमहल के एक बयान में बताया, “प्रधानमंत्री को नियुक्त करने की प्रक्रिया में देरी नहीं की जा सकती क्योंकि लोगों और राष्ट्र की भलाई के लिए देश को सरकार की जरूरत है.”



मोहिउद्दीन के गठबंधन में देश के मुस्लिम बहुल लोगों का वर्चस्व है और इसमें घोटालों के आरोपों से घिरी पूर्व नेता नजीब रजाक की पार्टी यूनाइटेड मलय नेशनल ऑर्गनाइजेशन (यूएमएनओ) भी शामिल हैं.

गठबंधन में शामिल है कट्टर मुस्लिम पार्टी
पूर्व में महातिर के सहयोगी रहे मोहिउद्दीन ने सत्ता में आने की चाह में यूएमएनओ से हाथ मिलाया. उनके गठबंधन में कट्टर मुस्लिम पार्टी भी शामिल है जो इस्लामी कानूनों पर जोर देती है.

मौजूदा संकट उस वक्त पैदा हुआ जब महातिर और अनवर इब्राहिम का सत्तारूढ़ “पैक्ट ऑफ होप” गठबंधन एक हफ्ते पहले टूट गया. इस गठबंधन ने दो साल पहले नजीब की सरकार के खिलाफ ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी.

महातिर मोहम्मद ने की ये घोषणा
इसके पहले मलेशिया के नेता महातिर मोहम्मद ने शनिवार को इशारा किया कि वह पूर्व सत्तारूढ गठबंधन के साथ मिलेंगे जिसका नेतृत्व उन्होंने प्रतिद्वंद्वी अनवर इब्राहिम के साथ किया था.

महातिर ने अपनी सरकार गिराने की नाकाम कोशिश के बाद सोमवार को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. महातिर ने कहा कि उन्होंने अनवर के अलायंस ऑफ होप के नेताओं के साथ शनिवार को मुलाकात की और अब उन्हें विश्वास है कि प्रधानमंत्री के रूप में सत्ता में आने के लिए उनके पास पर्याप्त संख्या है.

ये भी पढ़ें-
पहली बार अमेरिकी चुनाव प्रचार में थीम बन रहा है भारत, जानें कैसे?

अमेरिका-तालिबान शांति समझौते का क्या होगा भारत पर असर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 29, 2020, 3:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर