आखिरी समय में तकनीकी गड़बड़ी के कारण NASA सोलर प्रोब का लॉन्च टला

मिशीगन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और परियोजना वैज्ञानिकों में शामिल जस्टिन कास्पर ने कहा, ‘पारकर सोलर प्रोब हमें इस बारे में पूर्वानुमान लगाने में बेहतर मदद करेगा कि सौर हवाओं में विचलन कब पृथ्वी को प्रभावित कर सकता है.’

News18Hindi
Updated: August 11, 2018, 4:11 PM IST
आखिरी समय में तकनीकी गड़बड़ी के कारण NASA सोलर प्रोब का लॉन्च टला
पार्कर सोलर की तस्वीर- NASA via AP
News18Hindi
Updated: August 11, 2018, 4:11 PM IST
सूर्य के प्रचंड तापमान वाले वातावरण के बारे जानकारी हासिल करने और इस तारे तक मानवों के पहले मिशन के उद्देश्य से डेढ़ अरब डॉलर के नासा के अंतरिक्ष यान के लॉन्च में देरी होगी. इसके लॉन्च की उल्टी गिनती शुक्रवार को ही शुरू हो गई थी. नासा ने कहा था कि लॉन्च स्थानीय समयानुसार 11 अगस्त को सुबह तीन बजकर 33 मिनट पर शुरू होगा और मौसम पूर्वानुमान 70 प्रतिशत लॉन्च के पक्ष में है. आखिरी समय में कुछ तकनीकी दिक्कत आ जाने के कारण इसके लॉन्च में देरी होगी. अब इसका लॉन्च रविवार, 12 अगस्त को सुबह 3.31 बजे होगा.

कार के आकार का अंतरिक्ष यान ‘पारकर सोलर प्रोब’ फ्लोरिडा के केप केनवरल से डेल्टा 4 हैवी रॉकेट के साथ लॉन्च किया जाना था. इस यान का मुख्य लक्ष्य सूर्य की सतह के आसपास के असामान्य वातावरण के गूढ़ रहस्यों का पता लगाना है. सूर्य की सतह के ऊपर का क्षेत्र (कोरोना) का तापमान सूर्य की सतह के तापमान से करीब 300 गुना ज्यादा है.

मिशीगन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और परियोजना वैज्ञानिकों में शामिल जस्टिन कास्पर ने कहा, ‘पारकर सोलर प्रोब हमें इस बारे में पूर्वानुमान लगाने में बेहतर मदद करेगा कि सौर हवाओं में विचलन कब पृथ्वी को प्रभावित कर सकता है.’ इस यान को केवल साढे चार इंच (11.43 सेंटीमीटर)मोटी ऊष्मा रोधी शील्ड से सुरक्षित किया गया है जो इसे सूर्य के तापमान से बचाएगी. नासा ने अपनी इस योजना को 'टच सन' नाम दिया है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें: पहली बार सूर्य को 'छुएगा' नासा का यान!
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर