लाइव टीवी

19000 की मौत और दुनियाभर में लॉकडाउन, ब्राजील के राष्ट्रपति बोले- मीडिया ट्रिक है ये कोरोना वायरस

News18Hindi
Updated: March 25, 2020, 10:01 AM IST
19000 की मौत और दुनियाभर में लॉकडाउन, ब्राजील के राष्ट्रपति बोले- मीडिया ट्रिक है ये कोरोना वायरस
इस वायरस से दुनियाभर में अब तक 19000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो (Jair Bolsonaro) कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर दिए अपने एक बयान को लेकर विवादों में आ गए हैं. मंगलवार को उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर कुछ ज्यादा ही चिंता की जा रही है. बोलसोनारो ने कहा कि कोरोना असल में मीडिया ट्रिक्स है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2020, 10:01 AM IST
  • Share this:
रियो डी जेनेरियो. चीन से फैलना शुरू हुए कोरोना वायरस (Coronavirus) से भारत समेत दुनिया भर के देश जूझ रहे हैं. इस वायरस से दुनियाभर में अब तक 19,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. करीब 2.6 अरब लोग लॉकडाउन के कारण अपने घरों में बंद रहने को मजबूर हैं, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग के जरिए कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके. इस वायरस के प्रसार को रोकने से भले ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से लेकर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) समेत दूसरे देशों के राष्ट्राध्यक्ष बड़े-बड़े कदम उठा रहे हों, लेकिन ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो इससे अलग ही राय रखते हैं.

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो (Jair Bolsonaro) कोरोना वायरस को लेकर दिए अपने एक बयान को लेकर विवादों में आ गए हैं. मंगलवार को उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर कुछ ज्यादा ही चिंता की जा रही है. यहीं नहीं, उन्होंने ब्राजील की मीडिया पर राष्ट्रव्यापी हिस्टीरिया फैलाने का आरोप भी लगाया. बोलसोनारो ने कहा कि कोरोना असल में मीडिया ट्रिक्स है.

जेयर बोलसोनारो ने एक राष्ट्रीय स्तर पर प्रसारित संबोधन में ये बातें कही. उन्होंने आरोप लगाया कि मीडिया इटली में मरने वालों की संख्या को अपने हिसाब से बढ़ाकर बता रही है. असली आंकड़ा उतना नहीं है, जितना की चैनलों में दिखाया जा रहा है. बोलसोनारो ने ये भी तर्क दिया कि इटली में इतनी मौतें सिर्फ कोरोना की वजह से नहीं हो रही, बल्कि वहां के ठंडे मौसम और बुजुर्ग आबादी के कारण ऐसा हो रहा है.

ब्राजील के राष्ट्रपति ने कहा, 'वायरस आ गया, हम इसका सामना कर रहे हैं. यह जल्द ही गुजर जाएगा. लेकिन हमें अपनी जिंदगी जारी रखनी है. नौकरियों को बनाए रखना चाहिए.'



कोरोना वायरस की वजह से होम क्वॉरनटाइन में रह रहे लोगों ने राष्ट्रपति के इस बयान का विरोध भी किया. बता दें कि ब्राजील में तकरीबन 2,200 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. इनमें से 46 लोगों की मौत हो चुकी है.

इसके पहले भी बोलसनारो COVID-19 को लेकर गैर-जिम्मेदाराना बयान दे चुके हैं. हाल ही में उन्होंने कोरोना वायरस से संक्रमण के कारण को एक फैंटेसी करार दिया था. उन्होंने कहा था कि कोरोना वायरस से ज्यादा डरने की जरूरत नहीं है, ये एक फ्लू की तरह आम बीमारी है.

ये भी पढ़ें: कोरोना के बाद अब चीन में सामने आया हंता वायरस, एक की मौत, जानिए इसके बारे में सब कुछ

कोरोना वायरस : गंभीर स्थिति के लिए कितना तैयार है देश?

हमारी तैयारी विनाश की तो है, लेकिन बचाव की नहीं!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 8:51 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर