US Election: भारतीय मूल के उम्मीदवारों का दबदबा कायम, ओहायो से सीनेटर चुने गए पहले इंडो-अमेरिकन बने नीरज एंटनी

US Election 2020
US Election 2020

रॉयटर्स के अनुसार, इलेक्टोरल वोट में अब कभी डोनालड ट्रंप (Donald Trump) का पलड़ा भारी दिख रहा है, तो कभी जो बाइडन (Joe Biden) आगे निकलते दिख रहे हैं. ताजा रुझानों में बाइडन ने 220 वोटों के साथ फिर से बढ़त बना ली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2020, 10:51 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. इस बार का अमेरिकी चुनाव भारतीय-अमेरिकी उम्मीदवारों के लिए बेहतर नजर आ रहा है। नीरज एंटनी (Neeraj Antony) ओहायो (Ohio) से सीनेट (Senate) चुने गए पहले भारतीय-अमेरिकी बन गए हैं। इससे पहले आए नतीजों में भारतीय मूल के डेमोक्रेटिक उम्मीदवार राजा कृष्णमूर्ति (Raja Krishnamoorthy) भी लगातार तीसरी बार यूएस हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव चुन लिए गए हैं।

मंगलवार को डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार मार्क फोगल को मात देने वाले एंटनी शपथ ग्रहण करने के बाद वह ओहायो से सीनेटर बनने वाले पहले भारतीय-अमेरिकी बन जाएंगे। एंटनी ने कहा ‘मैं इस समुदाय के निरंतर समर्थन के लिए बहुत आभारी हूं, जिसमें मैंने जन्म लिया और पला-बढ़ा।’ राजनीतिशास्त्र में स्नातक एंटनी 24 साल की उम्र में 2014 में ओहायो प्रतिनिधिसभा के लिए चुने गए थे। एंटनी ने कहा 'सीनेटर के तौर पर, मैं हर दिन कड़ी मेहनत करूंगा ताकि ओहायो के लोगों को अपना अमेरिकी सपना साकार करने का मौका मिले।' एंटनी के माता-पिता 1987 में अमेरिका आए थे।

भारतीय मूल के डेमोक्रेटिक सांसद राजा कृष्णमूर्ति लगातार तीसरी बार अमेरिकी कांग्रेस के निम्न सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव के तौर पर जीत दर्ज कर ली है. उन्होंने इस चुनाव में लिबरटेरियन पार्टी उम्मीदवार प्रेस्टन नेल्सन को हराया. कृष्णमूर्ति के माता-पिता तमिलनाडु के रहने वाले हैं और वह 2016 में पहली बार अमेरिकी संसद के निम्न सदन के सदस्य चुने गए थे. 47 साल के कृष्णमूर्ति का जन्म नई दिल्ली में हुआ था.

दिलचस्प हो गया है मुकाबला


अमेरिका में जारी चुनावी सरगर्मी के बीच मैदान के अलावा उम्मीदवारों के बीच ट्वीट पर भी बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। इसके अलावा समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार, इलेक्टोरल वोट (Electoral Vote) में अब कभी ट्रंप का पलड़ा भारी दिख रहा है, तो कभी बाइडन आगे निकलते दिख रहे हैं. ताजा रुझानों में बाइडन ने 220 वोटों के साथ फिर से बढ़त बना ली है. वहीं, ट्रंप के पास अभी 213 वोट हैं. बहुमत का आंकड़ा 270 है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज