Home /News /world /

New Variant: क्या है नया वेरिएंट NeoCoV? जो हर 3 में से 1 संक्रमित की ले सकता है जान

New Variant: क्या है नया वेरिएंट NeoCoV? जो हर 3 में से 1 संक्रमित की ले सकता है जान

अब तक इस वायरस से इंसानों के संक्रमित होने का कोई मामला सामने नहीं आया है. (सांकेतिक तस्वीर: AP)

अब तक इस वायरस से इंसानों के संक्रमित होने का कोई मामला सामने नहीं आया है. (सांकेतिक तस्वीर: AP)

New Variant NeoCoV: अब तक इस वायरस से इंसानों के संक्रमित होने का कोई मामला सामने नहीं आया है. वैज्ञानिक इसे लेकर और शोध करने में लगे हुए हैं. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस नए वायरस म्यूटेशन की रिपोर्ट को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. लेकिन इस रिपोर्ट के आते ही दुनिया भर में तनाव का माहौल बन गया है. ओमिक्रॉन को लेकर भी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने नवंबर में चेतावनी जारी की थी और महज 2 महीने के अंदर इसने पूरी दुनिया को अपने घेरे में ले लिया था.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. अभी दुनिया ओमिक्रॉन (Omicron) के खतरे से पूरी तरह से निपट नहीं पायी है, कई जगह तो डेल्टा वेरिएंट (Delta Variant) भी अपना कहर बनाए हुए हैं. ऐसे में चीन से एक नए वेरिएंट के उभरने की बात सामने आ रही है. इस वेरिएंट को मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (MERS) का म्यूटेशन बताया जा रहा है. MERS-CoV वह वायरस है, जिसने 2012 और 2015 में मध्य पूर्व के देशों में अपना प्रकोप फैलाया था. NeoCoV नाम के इस वेरिएंट को लेकर वैज्ञानिकों ने चीन में चेतावनी जारी की है.

इस वायरस के कारण मृत्युदर बहुत ज्यादा
एक अध्ययन से पता चला है कि NeoCoV और इसका करीबी साथी PDF-2180-CoV चमगादड़ के एंजियोटेंसिन एंजाइम 2 और इंसानों के एसीई 2 वायरस का इस्तेमाल करके मानव शरीर में प्रवेश कर सकता है. वैज्ञानिकों के चेतावनी दी है कि यह नया कोरोना वायरस एसीई 2 रिसेप्टर को कोविड-19 से अलग तरीके से इस्तेमाल कर सकता है. इस वायरस के कारण मृत्युदर भी बहुत ज्यादा हो सकती है. ऐसा माना जा रहा है कि इससे संक्रमित होने वाले हर तीन लोगों में एक की मौत हो सकती है.

यह भी पढ़ें: Good News: अब आएंगे 30 दिन वाले रिचार्ज प्लान, TRAI ने टेलीकॉम कंपनियों को दिए निर्देश

हालांकि NeoCov वायरस को लेकर कुछ वैक्टर शोध केंद्र के विशेषज्ञों का मानना है चीन के डाटा को देखकर लगता है कि फिलहाल इस वायरस के इंसानों में फैलना का खतरा नहीं लग रहा है.

वैज्ञानिक कर रहे शोध
अब तक इस वायरस से इंसानों के संक्रमित होने का कोई मामला सामने नहीं आया है. वैज्ञानिक इसे लेकर और शोध करने में लगे हुए हैं. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस नए वायरस म्यूटेशन की रिपोर्ट को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. लेकिन इस रिपोर्ट के आते ही दुनिया भर में तनाव का माहौल बन गया है. ओमिक्रॉन को लेकर भी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने नवंबर में चेतावनी जारी की थी और महज 2 महीने के अंदर इसने पूरी दुनिया को अपने घेरे में ले लिया था.

Tags: Coronavirus, Omicron

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर