भारत ने नेपाल में बनाया 2.2 करोड़ रुपये की लागत से स्कूल, जानिए क्या है वजह

भाषा
Updated: September 3, 2019, 6:50 PM IST
भारत ने नेपाल में बनाया 2.2 करोड़ रुपये की लागत से स्कूल, जानिए क्या है वजह
भारत ने नेपाल में 2.2 करोड़ रूपये लागत से बना स्कूल नेपाल को सौंपा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भरातीय दूतावास (Indian Embassy) ने बताया कि इस स्कूल (School) की स्थापना 1965 में हुई थी. यहां कक्षा बारहवीं तक पढ़ाई होती है.

  • Share this:
काठमांडू: भारत (India) ने नेपाल (Nepal) को प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के गृह जिले झापा में 2.2 करोड़ रूपये की लागत से बनाया नया स्कूल (School) सौंप दिया है. हिमालय टाईम्स की मंगलवार की खबर के अनुसार सोमवार को श्री स्कूलचौन उच्च माध्यमिक विद्यालय का उद्घाटन नेपाल में भारत के राजदूत (Indian Embassy) मंजीव सिंह पूरी और अटॉर्नी जनरल अग्नि प्रसाद खारेल ने संयुक्त रूप से किया.

भरातीय दूतावास (Indian Embassy) ने बताया कि इस स्कूल (School) की स्थापना 1965 में हुई थी. यहां कक्षा बारहवीं तक पढ़ाई होती है. इस स्कूल में करीब 1150 विद्यार्थी (Students) हैं जिनमें 60 फीसद छात्राएं हैं. यह झापा का प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान है जो प्रधानमंत्री ओली का गृह जिले में स्थिति है.

भारत ने की थी 233 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद
भारत ने हाल में नेपाल सरकार को विभिन्न बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए 233 करोड़ रूपये दिये थे. उनमें सड़क निर्माण तथा 2015 के भूकंप में नष्ट हुए मकानों के पुनर्निर्माण आदि शामिल हैं. इस भूकंप के कारण 9,000 से अधिक लोगों की जान चली गई थी.

विदेश मंत्री जयशंकर ने किया था ऐलान
बुनियादी ढांचा परियोजना सहायता पर नेपाल-भारत संयुक्त आयोग की पांचवीं बैठक में निर्णय लिया गया था. इस बैठक में विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने हिस्सा लिया था.

ये भी पढ़ें-
Loading...

कभी पाकिस्तानियों का फेवरिट रहा भारत का ये सिनेमा हॉल हुआ बंद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नेपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 5:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...