मोदी ने ‘नेपाल-भारत मैत्री पशुपति धर्मशाला’ का उद्घाटन कर कहा- अपनेपन की ऐतिहासिक साझेदारी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिम्सटेक के अन्य सदस्य देशों के शीर्ष नेताओं ने नेपाल की राजधानी काठमांडू में आयोजित इस दो दिवसीय शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया.

News18Hindi
Updated: August 31, 2018, 9:57 PM IST
मोदी ने ‘नेपाल-भारत मैत्री पशुपति धर्मशाला’ का उद्घाटन कर कहा- अपनेपन की ऐतिहासिक साझेदारी
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिम्सटेक के अन्य सदस्य देशों के शीर्ष नेताओं ने नेपाल की राजधानी काठमांडू में आयोजित इस दो दिवसीय शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया.
News18Hindi
Updated: August 31, 2018, 9:57 PM IST
नेपाल के काठमांडू में शुक्रवार को नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेन को बिम्सटेक की अध्यक्षता सौंपी. इसी के साथ संगठन का चौथा शिखर सम्मेलन समाप्त हो गया.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिम्सटेक के अन्य सदस्य देशों के शीर्ष नेताओं ने नेपाल की राजधानी काठमांडू में आयोजित इस दो दिवसीय शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट करके कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य दिग्गज नेताओं की बिम्स्टेक प्रक्रिया को पुनर्जीवित करने की प्रतिबद्धता के साथ यह शिखर सम्मेलन सफलतापूर्वक समाप्त हो गया.

बिम्स्टेक के मौजूदा अध्यक्ष ओली ने काठमांडू घोषणापत्र का मसौदा पेश किया, जिसे सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया. इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल के सबसे बड़े और ऐतिहासिक श्री पशुपतिनाथ के दर्शन किए और भारत-नेपाल के रिश्तों को रेखांकित करते हुए वहां भारत के सहयोग से बने एक धर्मशाला का उद्घाटन किया.

धर्मशाला का उद्घाटन करने के बाद मोदी ने भारत-नेपाल के रिश्ते के मजबूत होने की बात कही. धर्मशाला बनने से नेपाल वासियों में खुशी की लहर देखने को मिली. पशुपतिनाथ मंदिर के पंडितों ने भी इसे दोनों देशों के रिश्ते की मजबूती की पहचान बताया है. (नेपाल से अभिषेक मिश्र की रिपोर्ट)

और भी देखें

Updated: September 19, 2018 12:01 PM ISTVIDEO- CM ममता बनर्जी ने पियानो पर छेड़ी 'हम होंगे कामयाब' की धुन
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर