लाइव टीवी

नेपाल के पीएम केपी ओली ने नागरिकता कानून को लेकर किया ऐसा ट्वीट, फिर किया डिलीट

News18Hindi
Updated: December 24, 2019, 3:10 PM IST
नेपाल के पीएम केपी ओली ने नागरिकता कानून को लेकर किया ऐसा ट्वीट, फिर किया डिलीट
नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली के नागरिकता कानून 2019 को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के ट्वीट को री-ट्वीट करने पर कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा.

नेपाल के एक यूजर ने केपी ओली के री-ट्वीट पर लिखा कि आप अपरिपक्‍वता (Immaturity) दिखा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 24, 2019, 3:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. नागरिकता संशोधन कानून 2019 (CAA 2019) का देश में विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. लोग सड़कों पर उतर रहे हैं. इन विरोध प्रदर्शनों में कई जगहों पर हिंसा (Violence) भी हो रही है. इस बीच सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने 2.37 मिनट के वीडियो संदेश में कानून के विरोध को पुलिस के जरिये दबाने की केंद्र सरकार की कोशिश की कड़ी आलोचना की. उनका यह वीडियो संदेश (Video Message) कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया था. सोनिया गांधी के इस ट्वीट को नेपाल (Nepal) के प्रधानमंत्री केपी ओली (PM KP Oli) ने री-ट्वीट किया. हालांकि, कुछ देर बाद उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस ट्वीट को हटा दिया गया.

लोगों ने पीएम केपी ओली की कड़ी निंदा की
नेपाल के पीएम केपी ओली ने जब सोनिया गांधी के ट्वीट को री-ट्वीट किया तो लोगों ने इसकी आलोचना करनी शुरू कर दी. इसके बाद उसे हटा दिया गया. बाद में नेपाल के पीएम के एक करीबी अधिकारी ने कहा कि उनका आधिकारिक ट्विटर हैंडल कुछ देर के लिए हैक हो गया था.

नेपाल के एक यूजर ने केपी ओली के री-ट्वीट पर लिखा कि आप अपरिपक्‍वता (Immaturity) दिखा रहे हैं. आपके इस कदम से भारत के साथ नेपाल के संबंध प्रभावित हो सकते हैं. आपके इसके कदम से साबित होता है कि आप कूटनीति के स्‍तर पर अ‍परिपक्‍व (Immature) हैं.

नेपाल के पीएम केपी ओली ने कांग्रेस की अंतरिम अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के नागरिकता कानून 2019 को लेकर किए वीडियो संदेश को री-ट्वीट कर दिया.


'पीएम ओली का पासवर्ड कर लिया था क्रैक'
ट्वीट डिलीट किए जाने के बाद केपी ओली के प्रेस सलाहकार सूर्या थापा ने कहा कि किसी ने प्रधानमंत्री का पासवर्ड क्रैक कर लिया था. उसी ने सोनिया गांधी के ट्वीट को री-ट्वीट किया था. उन्‍होंने बताया कि इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है.बता दें कि केपी ओली और कम्‍युनिस्‍ट पार्टी ऑफ नेपाल के सोनिया गांधी के नेतृत्‍व वाली कांग्रेस (Congress) से अच्‍छे संबंध रहे हैं. वहीं केपी ओली के पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ संबंधों में उस समय खटास आ गई थी, जब सितंबर 2015 में भारत 134 दिन तक नेपाल के साथ सभी आर्थिक संबंधों पर रोक (Economic Blockade) लगा दी थी.

ये भी पढ़ें- अब सुभाष चंद्र बोस के पोते ने उठाया नागरिकता कानून पर सवाल

जामिया: बाइक को लगाई आग, फिर जलती गाड़ी को खींचकर बस के नीचे रख दिया- VIDEO

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 24, 2019, 12:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर