नेपाल: PM ओली ने की आर्मी चीफ जनरल पूर्ण चंद्र थापा से बातचीत, इस्तीफे का है दबाव

नेपाल: PM ओली ने की आर्मी चीफ जनरल पूर्ण चंद्र थापा से बातचीत, इस्तीफे का है दबाव
फोटो सौ. (ANI)

नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली (PM KP Sharma Oli) ने शनिवार शाम हुई कैबिनेट की आपात बैठक में अपने मंत्रियों से कहा कि वे साफ बताएं कि किसकी तरफ हैं? किसका समर्थन करेंगे? या उनकी सरकार के खिलाफ हैं, क्योंकि पार्टी और देश मुश्किल में हैं.

  • Share this:
काठमांडू. नेपाल में राजनीतिक हलचल की बीच प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (PM KP Sharma Oli) की मुश्किलें लगातार बढ़ती ही जा रही हैं. वहीं एएनआई के हवाले से एक खबर सामने आई है कि ओली ने नेपाल के सेना अध्यक्ष जनरल पूर्ण चंद्र थापा (Purna Chandra Thapa) से बातचीत की है. इस खबर के बाद से ही यह सवाल उठ रहा है कि क्या पीएम ओली अपनी सत्ता बचाने के लिए सेना का सहारा लेंगे. बता दें, हाल ही में नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के सह-अध्यक्ष और ओली पर इस्तीफे का दबाव बना रहे पुष्प कमल दहल उर्फ प्रचंड ने कहा था कि नेपाल में पाकिस्तान की तरह सरकार चलाने की कोशिश हो सकती है, जिसे सफल नहीं होने दिया जाएगा.

उल्लेखनीय है कि नेपाल की सत्तारूढ़ नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (एनसीपी) टूट की कगार पर है. उसके अध्यक्ष और प्रधानमंत्री केपी ओली ने अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों को किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा है. ओली ने शनिवार शाम हुई कैबिनेट की आपात बैठक में अपने मंत्रियों से कहा कि वे साफ बताएं कि किसकी तरफ हैं? किसका समर्थन करेंगे? या उनकी सरकार के खिलाफ हैं, क्योंकि पार्टी और देश मुश्किल में हैं. यह जानकारी बैठक में मौजूद एक मंत्री ने दी. बैठक में हुई औपचारिक बातचीत का ब्योरा जारी नहीं किया गया.







ओली ने कहा कि पार्टी के कुछ नेता उन्हें हटाने की कोशिश कर रहे हैं. इसके साथ ही ये लोग राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी के खिलाफ महाभियोग चलाने की साजिश रच रहे हैं, क्योंकि उन्होंने मेरा समर्थन किया था. भंडारी और ओली के बीच बहुत अच्छे राजनीतिक संबंध हैं. ओली के समर्थन से, भंडारी 2015 के बाद से दो बार राष्ट्रपति बन चुकी हैं.

ये भी पढ़ें: नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली बोले- मेरे और राष्ट्रपति के खिलाफ रची जा रही है साजिश

पार्टी की बैठक सोमवार 11 बजे से होगी
बता दें, नेपाल की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी की स्टैंडिंग कमेटी की निर्धारित बैठक सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई. इस बैठक में पार्टी की एकता और ओली के ​भविष्य पर चर्चा होनी थी. प्रेस एडवाइजर बिष्णु सपकोटा दहल ने कहा, स्टैंडिंग कमेटी की बैठक सोमवार की सुबह 11 बजे तक के लिए टाल दी गई है. शुक्रवार को प्रधानमंत्री केपी ओली और पुष्प कमल दहल के बीच शुक्रवार को बातचीत विफल रहने के बाद दोनों में इस बात की सहमति बनी थी कि स्टैंडिंग कमेटी की बैठक से पहले वे दोनों शनिवार को फिर से बैठेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading