नेपाल के पर्वतारोही रीता शेरपा का निधन, 10 बार माउंट एवरेस्ट फतह करने का रिकॉर्ड

नेपाल के पर्वतारोही रीता शेरपा का 72 वर्ष में निधन  (PHOTO: AP)
नेपाल के पर्वतारोही रीता शेरपा का 72 वर्ष में निधन (PHOTO: AP)

माउंट एवरेस्ट (Mount Everest) की चोटी फतह करने वाले पहले नेपाली पर्वतारोहीआंग रीता शेरपा (Ang Rita Sherpa) का आज निधन हो गया. उन्होंने अपने पूरे जीवन 10 बार माउंट एवरेस्ट की चोटी फतह की. वे ऐसा करने वाले दुनिया के एक मात्र व्यक्ति थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 11:08 PM IST
  • Share this:
काठमांडू. माउंट एवरेस्ट (Mount Everest) की चोटी फतह करने वाले पहले नेपाली पर्वतारोही (Mountaineer) आंग रीता शेरपा (Ang Rita Sherpa) का आज निधन हो गया. उन्होंने अपने पूरे जीवन 10 बार माउंट एवरेस्ट की चोटी फतह की. वे ऐसा करने वाले दुनिया के एक मात्र व्यक्ति थे. उनके इस रिकॉर्ड को वर्ष 2017 में गिनीज बुक आॅफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया. उनकी श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए परिजनों ने बताया शेरपा काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे. शोक समारोह में शामिल हुए परिजनों और उनके साथियों ने कहा कि आंग रीता शेरपा की मौत से नेपाल और पर्वतारोही समुदाय को गहरा आघात लगा है. उनका निधन 72 वर्ष की आयु में सोमवार को हो गया. वे लंबे समय से दिमाग और लिवर की बिमारी से जूझ रहे थे.

बगैर ऑक्सीजन सिलिंडर के 10 बार एवरेस्ट की चढ़ाई पूरी की

शेरपा 10 बार बिना ऑक्सीजन सिलिंडर के ही एवरेस्ट की चढ़ाई पूरी की. उनके साथी उन्हें “स्नो लेपर्ड” के नाम से पुकारते थे. वे पहली बार 1993 में माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई पूरी की. इसके बाद वे 1996 तक 10 बार चढ़ाई की. उनके पोते फूर्बा तशेरिंग ने बताया कि उनकी मौत काठमांडू स्थित घर में हुई थी.



शेरपा गोंबा में होगा उनका अंतिम संस्कार
नेपाल पर्वतारोही संघ के पूर्व अध्यक्ष आंग तशेरिंग शेरपा ने दुख प्रकट करते हुए कहा कि वे पर्वतारोहियों के सितारे थे और उनकी मौत देश और पर्वतारोहियों बंधुत्व के लिए गहरा आघात है. उनके शव को शेरपा गोंबा या धार्मिक स्थल पर अंतिम संस्कार किया जाएगा.

ये भी पढ़ें: ब्रिटेन में भारतीय सिख ड्राइवर को गोरों ने तालिबानी बताया, पगड़ी उछाली और पीटा

युद्ध से बर्बाद हुए यमन को मिला गधों का सहारा, एक लाख रियाल तक मिल रही है कीमत 

चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग को बिजनेसमैन ने 'जोकर' बताया, हुई 18 साल जेल की सजा 

कई अन्य पर्वतारोहियों ने आंग रीता के पराक्रम को पार करने में कामयाबी पाई है. शेरपा समुदाय के एक सदस्य ने 24 बार लिया है, जिसमें समुदाय के एक सदस्य ने 24 बार चढ़ाई का रिकॉर्ड स्थापित किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज