अलर्ट! कोरोना और टिड्डियों के बाद अब इबोला वायरस ने भी दी दस्तक, इस देश में हुईं 5 मौतें

अलर्ट! कोरोना और टिड्डियों के बाद अब इबोला वायरस ने भी दी दस्तक, इस देश में हुईं 5 मौतें
लोगों की लापरवाही से खतरे की घंटी बज सकती है. (Demo Pic)

भुखमरी, टिड्डी प्लेग (Locust Plague) और खसरा (Measles) झेल रहे अफ्रीका में अब इबोला वायरस (Ebola Virus) की भी वापसी होती नज़र आ रही है. डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो में इबोला वायरस के नए मामले सामने आए हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
किन्शासा. अफ्रीका (Africa) में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के डेढ़ लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और करीब 6000 लोग इस संक्रमण की चपेट में आकर अपनी जान भी गंवा चुके हैं. भुखमरी, टिड्डी प्लेग (Locust Plague) और खसरा (Measles) झेल रहे अफ्रीका (Africa) में अब इबोला वायरस (Ebola Virus) की भी वापसी होती नज़र आ रही है. डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो (DRC) में इबोला वायरस के नए मामले सामने आए हैं. हाल ही में इस देश में इबोला के मामले मिले थे, लेकिन इस बार नए केस जहां ये बीमारी फैली थी उससे एक हज़ार से अधिक किलोमीटर दूर मिले हैं और ये नया क्लस्टर होने की आशंका जाहिर की गयी है.

कांगो के स्वास्थ्य मंत्री इटेनी लोंगोंडो ने बताया कि पश्चिमी शहर म्बानडाका में वायरस से 5 लोगों की मौत हुई है. उन्होंने कहा है कि प्रभावित क्षेत्र की लिए डॉक्टर और दवाइयां रवाना किए गए हैं. डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो अप्रैल में इबोला महामारी के अंत की घोषणा करने ही वाला था कि नए मामले सामने आ गए थे. डीआरसी इबोला के अलावा ख़सरा और कोरोना महामारी से भी जूझ रहा है.

इबोला ने 750 मील का सफ़र कैसे किया?
न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक कांगो के दक्षिणी इलाके में स्थित शहर मेबंका में इबोला वायरस के कई नए मामले सामने आ रहे हैं. यूनिसेफ के मुताबिक सोमवार तक यहां इबोला से 5 लोगों की मौत हो चुकी थी. सिर्फ एक महीने पहले ही कांगो ने देश में इबोला के मामले न होने की और महामारी पर काबू पा लिए जाने कि घोषणा की थी. बेटे 2 सालों में यहां इबोला से 2275 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि कांगो स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि स्थिति अभी भी नियंत्रण में है. फ़िलहाल इस बात की छानबीन की जा रही है कि इबोला इतनी दूर कैसे पहुंचा है, क्योंकि पिछले सभी मामले उत्तरी कांगो में मिले थे.



कांगो में भी कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन जारी है. यहां संक्रमण के 3000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं जबकि 71 लोगों की इससे मौत भी हो गयी है. WHO के मुताबिक कांगो और कई अफ्रीकी देश टेस्ट किट और अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी से जूझ रहे हैं. ऐसे में यहां संक्रमण के मामलों में अचानक तेजी दर्ज की जा सकती है. कांगो में खरसा का भी प्रकोप जारी है और जनवरी 2019 से लेकर अभी तक 3,50,000 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं जबकि 6500 से ज्यादा की मौत हो चुकी है. कांगो उन अफ्रीकी देशों में से भी है जहां टिड्डियों ने कहर बरपाया हुआ है.



 

यह भी पढ़ें: 2 Asteroid के नमूने लेकर लौटेंगे 2 अंतरिक्ष यान, रोचक है इनका इतिहास

एक Nan device ने कराई कोशिका के अंदर की यात्रा, जानिए कैसे हुआ यह कमाल

एक अरब साल ज्यादा पुरानी हैं पृथ्वी की Tectonic Plates, जानिए क्या बदलेगा इससे

वैज्ञानिकों ने देखा अब तक का सबसे चमकीला, तेज FBOT, जानिए क्या है यह
First published: June 2, 2020, 7:00 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading