ब्रिटेन में न्यू इमिग्रेशन लॉ होगा लागू, क्रिमिनल ब्रैकग्राउंड वाले को किया जाएगा बैन

ब्रिटेन में न्यू इमिग्रेशन लॉ होगा लागू, क्रिमिनल ब्रैकग्राउंड वाले को किया जाएगा बैन
इंग्लैंड की मंत्री प्रीति पटेल ने न्यू इमिग्रेशन लॉ लागू करने की घोषणा की है

ब्रिटेन के नए इमिग्रेशन नियमों (Immigration Law) के तहत एक वर्ष से अधिक समय तक जेल में रहने वाले विदेशी अपराधियों (Foreigner Criminals) को ब्रिटेन में प्रतिबंधित किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 13, 2020, 12:23 PM IST
  • Share this:
लंदन. ब्रिटेन के नए इमिग्रेशन नियमों (Immigration Law) के तहत एक वर्ष से अधिक समय तक जेल में रहने वाले विदेशी अपराधियों (Foreigner Criminals) को ब्रिटेन में प्रतिबंधित किया जाएगा. गृह सचिव प्रीति पटेल (Preeti Patel) सोमवार को सीमा बल और इमिग्रेशन अधिकारियों के लिए अतिरिक्त सुरक्षा उपायों की घोषणा करेंगी. टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि पॉकेटमारी या चोरी करने करने वाले पेशेवर अपराधियों पर भी प्रतिबंध लगाया जा सकता है. भले ही उन्हें पहले एक साल से भी कम की सजा हुई हो. इस बदलाव का मतलब यह है कि यूरोपीय संघ के अपराधियों के साथ वैसा ही व्यवहार किया जाएगा जैसा कि फिलहाल गैर यूरोपीय संघ के देशों के अपराधियों के साथ होता है.

गंभीर अपराध के दोषियों को रोकने में मिलेगी मदद

द टेलीग्राफ ने बताया कि सीमा बल और इमिग्रेशन अधिकारी उन प्रवासियों को देश में घुसने से रोकने में सक्षम होंगे जो किसी गंभीर अपराध में दोषी पाए गए हैं. यह नया आपराधिक नियम ब्रिटेन में प्रवेश करने के इच्छुक हर उस व्यक्ति को प्रभावित करेगा जिसे जनता की सुरक्षा के लिए खतरा माना जाएगा. इस क़ानूनी धारा की मदद से अब मंत्री घृणा फैलाने वाले या उपद्रवियों या सामाजिक तनाव भड़काने की योजना के साथ देश में बसने की उम्मीद कर रहे अन्य लोगों को पकड़ने की अनुमति दे सकते हैं. यह कड़ी कार्यवाही नए इमीग्रेशन नियमों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है जो 1 जनवरी से बदला जाएगा और जिसे ब्रिटेन में प्रवेश करने वाले कम-कुशल प्रवासियों की संख्या में कटौती करने के लिए ही डिज़ाइन किया गया है.



इससे उच्च-कुशल श्रमिकों को लाभ होगा और उनके लिए यूके का वीजा प्राप्त करना आसान हो जाएगा. यह एक अंक प्रणाली व्यवस्था होगी इसलिए जो लोग ब्रिटेन में रहना और काम करना चाहते हैं उन्हें वीजा के लिए आवेदन करने के लिए 70 अंक हासिल करने की जरूरत होगी. कुछ प्रमुख अपेक्षाओं को पूरा करने पर जैसे एक निश्चित स्तर तक अंग्रेजी बोलने में सक्षम होने, एक अनुमोदित नियोक्ता से नौकरी की पेशकश होने, और न्यूनतम वेतन सीमा को पूरा करने पर ही अंक प्रदान किए जाएंगे.
ये भी पढ़ें: अमेरिकी नौसेना के जहाज में विस्फोट और भयंकर आग लगने से 21 लोग घायल

थाईलैंड में बंदरों से तुड़वाए जाते हैं नारियल, ब्रिटेन ने यहां के उत्पादों पर बैन लगाया

ब्रिटेन में काम करने के लिए प्रमुख स्वास्थ्य पेशेवरों को ही स्वास्थ्य और देखभाल वीजा दिया जाएगा जबकि एक स्नातक मार्ग के तहत अंतरराष्ट्रीय छात्रों को अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद कम से कम दो साल तक ब्रिटेन में रहने की अनुमति दी जाएगी. सुश्री पटेल ने रविवार को कहा कि ब्रिटिश लोगों ने हमारी सीमाओं पर नियंत्रण वापस लेने और एक नया अंक-आधारित आव्रजन प्रणाली शुरू करने के लिए मतदान किया है और क्योंकि अब हम यूरोपीय संघ को छोड़ चुके हैं इसलिए अब हम इस देश की पूर्ण क्षमता को मुक्त करने के लिए स्वतंत्र हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading