न्यूजीलैंड में 102 दिनों बाद मिले कोरोना के 4 नए मामले, सबसे बड़े शहर को किया बंद

न्यूजीलैंड में 102 दिनों बाद मिले कोरोना के 4 नए मामले, सबसे बड़े शहर को किया बंद
न्यूजीलैंड की पीएम जैसिंडा अर्डन (फाइल फोटो)

न्यूजीलैंड के सबसे बड़े शहर ऑकलैंड में कोरोना के चार नए (Four Cases of Corona in new Zealand) मामले सामने आने के बाद उसे पूरी तरह बंद कर दिया गया है. न्यूजीलैंड में पिछले 102 दिनों में कोरोना का कोई भी मरीज सामने नहीं आया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 11, 2020, 5:57 PM IST
  • Share this:
वेलिंगटन. न्यूजीलैंड में 102 दिनों बाद कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमण के कुछ मामले सामने आए हैं. देश के सबसे बड़े शहर ऑकलैंड (Four New cases of Coronavirus in Auckland) में कोरोना के चार नए मामले सामने आने के बाद उसे पूरी तरह बंद (Shut Down Completely) कर दिया गया है. न्यूजीलैंड में पिछले 102 दिनों में कोरोना का कोई भी मरीज सामने नहीं आया था. न्यूजीलैंड ने कोविड-19 पर बहुत बेहतरीन तरीके से जंग जीतने में कामयाबी पा ली थी. इससे इतर प्रशांत द्वीपीय देशों में कोरोना वायरस के 50 लाख केस सामने आए और वैश्विक स्तर पर इसमें लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. पूरी दुनिया में न्यूजीलैंड को सबसे सुरक्षित देश माना जा रहा है.

दक्षिण ऑकलैंड में मिले चार मामले
स्वास्थ्य विभाग के निदेशक एशले ब्लूमफील्ड ने कहा कि दक्षिण ऑकलैंड में एक परिवार में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीज की पुष्टि हुई है. इनमें से एक मरीज 50 से अधिक उम्र का है. इन चारों का कोई अंतरराष्ट्रीय यात्रा का इतिहास नहीं है. परिवार के सदस्यों का टेस्ट किया गया है और ये इस वायरस का शिकार कैसे हुए इसका पता लगाया जा रहा है.

कोरोना के नए मामलों के बाद खौफ पसरा
इस खबर के बाद पूरे देश में डर का माहौल पैदा हो गया है. मीडिया की खबरों के अनुसार लोग सुपरमार्केट की ओर भागने लगे ताकि अनाज और आवश्यक वस्तुओं का भंडारण किया जा सके.



प्रधानमंत्री जसिंडा ने तीन दिनों के लिए लगाया बैन
न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जसिंडा अरर्डन ने कहा कि ऑकलैंड में बुधवार की दोपहर से त्रिस्तरीय प्रतिबंध लगाया जाएगा और बचाव के सारे उपाय शुरू किए जाएंगे. इस प्रतिबंध का मतलब यह हुआ कि लोगों को कार्यालयों और स्कूलों से दूर रखा जाएगा. कहीं भी भीड़ इकट्ठा नहीं होने दी जाएगी. 10 से ज्यादा लोग एक साथ कहीं एकत्रित नहीं हो सकेंगे.

ये भी पढ़ें: PAK: रोजाना 1 हजार से कम हुए कोरोना केस, आज से खुले जिम, सैलून और रेस्तरां

रूस: सितंबर से कोरोना वैक्सीन का उत्पादन शुरू, 20 देशों ने किया ऑर्डर

जसिंडा ने कहा कि यह प्रतिबंध तीन दिन यानी शुक्रवार तक के लिए लगाया जाएगा. तीन दिनों का यह समय इस बात के लिए पर्याप्त होगा कि परिस्थितियों का सही सही मूल्यांकन किया जा सके. इस बीच सूचनाएं एकत्रित की जा सकेंगी और यह सुनिश्चित किया जा सकेगा कि इसका बड़े पैमाना पर प्रसार नहीं होने पाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज