इस देश में अब सिर्फ 1 कोरोना मरीज है अस्पताल में, कुल 22 लोग बचे हैं संक्रमित

इस देश में अब सिर्फ 1 कोरोना मरीज है अस्पताल में, कुल 22 लोग बचे हैं संक्रमित
न्यूजीलैंड में बस अब एक कोरोना संक्रमित अस्पताल में बचा है.

न्यूजीलैंड (New Zealand) की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न (Prime Minister Jacinda Ardern) ने मंगलवार को बताया कि देश में इस समय सिर्फ़ एक ही कोरोना संक्रमित (Coronavirus) अस्पताल में एडमिट है और पूरे देश में सिर्फ़ 22 मामले ही बचे हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
वेलिंग्टन. न्यूजीलैंड (New Zealand) ने कोरोना संक्रमण (Coronavirus) से निपटने के मामले में पूरी दुनिया के सामने एक मिसाल पेश की है. न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न (Prime Minister Jacinda Ardern) ने मंगलवार को बताया कि देश में इस समय सिर्फ़ एक ही कोरोना संक्रमित अस्पताल में एडमिट है और पूरे देश में सिर्फ़ 22 मामले ही बचे हैं. इन बाकी मामलों में कोई भी सीरियस नहीं है और कुछ सिर्फ एहतियात के चलते सेल्फ आइसोलेशन में हैं. क़रीब पचास लाख लोगों के इस देश में अब तक कोरोना संक्रमण के 1500 मामले सामने आए हैं और 21 लोगों की मौत हुई है.

न्यूजीलैंड की हेल्थ मिनिस्ट्री ने मंगलवार को बताया कि स्वास्थ्य अधिकारियों को भरोसा है कि उन्होंने देश में घरेलू संक्रमण के चक्र को तोड़ दिया है. मई महीने में नए मामले सामने नहीं आ रहे हैं. न्यूज़ीलैंड के अधिकतर हिस्सों से लॉकडाउन हटा दिया गया है. लेकिन जब न्यूज़ीलैंड अपनी सीमा को विदेशी नागरिकों के लिए खोलेगा तो हालात चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं. पीएम जैसिंडा आर्डर्न ने कहा, 'न्यूज़ीलैंड वासियों के स्वास्थ्य को लेकर जो उपलब्धियां हमने हासिल कर ली हैं, वह तारीफ के काबिल है लेकिन अभी भी खतरा टला नहीं है और कुछ पाबंदियां जारी रहेंगी.' महज 37 साल की उम्र में 2017 में न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री बनी जेसिंडा आर्डर्न कोरोना पर काबू पाने के बाद दुनिया के प्रभावशाली नेताओं में शामिल हो गयी हैं.

ऐसे तोड़ा कोरोना का चक्र
बता दें कि न्यूज़ीलैंड की पीएम जैसिंडा ने 23 मार्च को एक महीने तक का देशव्यापी लॉकडाउन घोषित किया था और तब वहां सिर्फ 200 से कुछ ही ज़्यादा एक्टिव केस थे और किसी संक्रमित की मौत नहीं हुई थी. यानी चार हफ्तों के इस समय के भीतर न्यूज़ीलैंड ने समय रहते ही इस चक्र को तोड़ने में काफी बढ़िया काम किया. सिर्फ चार हफ़्तों के भीतर ही 28 अप्रैल को जैसिंडा आर्डर्न घोषणा कर दी, 'न्यूज़ीलैंड में किसी तरह का कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं हो रहा है... हमने जंग जीत ली है.' इसी दिन के बाद से न्यूजीलैंड ने धीरे-धीरे लॉकडाउन भी ख़त्म कर दिया. हालंकि अ भी भी वहां सोशल डिस्टेंसिंग के कड़े नियम लागू हैं.



 



 
First published: May 26, 2020, 12:53 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading