• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • बिल गेट्स की चेतावनी- महामारी के दौरान अगले छह महीने बहुत बुरे हो सकते हैं

बिल गेट्स की चेतावनी- महामारी के दौरान अगले छह महीने बहुत बुरे हो सकते हैं

बिल गेट्स ने कहा- अगले छह महीने काफी बुरे हो सकते हैं. (File Pic)

बिल गेट्स ने कहा- अगले छह महीने काफी बुरे हो सकते हैं. (File Pic)

Bill Gates on Coronavirus: बिल गेट्स ने चेतावनी दी है कि कोरोना महामारी के प्रति लोगों का व्यवहार ऐसा ही रहा तो आने वाले चार से छह महीने काफी बुरे साबित हो सकते हैं.

  • Share this:
    वाशिंगटन. माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स (Bill Gates) ने रविवार को आगाह किया कि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) के दौर में अगले चार से छह महीने बहुत बुरे हो सकते हैं. गेट्स की संस्था कोविड-19 टीका (Covid-19 Vaccine) विकसित करने और उनकी आपूर्ति के प्रयासों में हिस्सा ले रही है. अमेरिका में कोरोना से बिगड़ते हालातों के मद्देनज़र गेट्स ने लोगों को आगाह किया.

    बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष गेट्स ने सीएनएन से कहा, 'महामारी के दौरान अगले चार से छह महीने बहुत बुरे हो सकते हैं. आईएचएमई (इंस्टिट्यूट फॉर हेल्थ मैट्रिक्स एंड एवेल्यूएशन) का अनुमान बताता है कि और दो लाख से ज्यादा लोगों की मौत होगी. अगर हम मास्क पहनने, भौतिक दूरी बनाए रखने जैसे नियमों का पालन करें तो इन संभावित मौतों में से ज्यादातर को रोका जा सकता है.' गेट्स ने कहा हालिया हफ्तों में अमेरिका में संक्रमण, मौत और अस्पताल में भर्ती होने के रिकॉर्ड मामले सामने आए हैं. 'मुझे लगता है कि अमेरिका इन हालात से निपटने में अच्छा काम करेगा.' गेट्स ने 2015 में ऐसी महामारी की चेतावनी दी थी.

    उन्होंने कहा, 'कुल मिलाकर, जब मैंने 2015 में भविष्यवाणी की थी, तब मैंने मृतकों की संख्या अधिक रहने की आशंका पर बात की थी. लिहाजा, यह वायरस जितना घातक अभी है, उससे भी अधिक जानलेवा हो सकता है। अभी हमने बहुत बुरा दौर नहीं देखा है। जिस बात ने मुझे आश्चर्यचकित किया वह अमेरिका और दुनियाभर में पड़ा आर्थिक प्रभाव था, जो उससे भी बड़ा था जिसका अनुमान मैंने पांच साल पहले लगाया था.'



    अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 3 लाख के पार
    अमेरिका में मौतों का आंकड़ा भी 3 लाख के पार हो गया है. देश के कई राज्यों में फाइजर की वैक्सीन पहुंचाने का काम तेज हो गया है. डोनाल्ड ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन के ऑपरेशन वार्प स्पीड के प्रमुख गुस्टावे पेरना ने बताया कि सोमवार को 145 जगहों पर फाइजर वैक्सीन की पहली डोज पहुंचाई जाएगी. मंगलवार को 425 और बुधवार को 66 जगहों पर वैक्सीन पहुंचाने की योजना है. यहां 11 दिसंबर को फाइजर की वैक्सीन को इमरजेंसी में इस्तेमाल की इजाजत दी गई थी.



    अमेरिका में कोविड-19 का टीका ले जाने के लिए तैयार हैं ट्रक
    उधर अमेरिका के मिशिगन विनिर्माण संयंत्र से कोरोना वायरस के टीके की पहली खेप ले जाने के लिए रविवार को ट्रक तैयार खड़े हैं. जानलेवा संक्रमण से बचाव के टीकों की खुराक शाम तक राज्यों में पहुंचने की उम्मीद है। ये टीके देश में महामारी का प्रकोप रोकने के लिए अहम है. अमेरिका के इतिहास में महामारी के खिलाफ सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू होगा. इस महामारी ने दुनियाभर में 16 लाख लोगों की जान ले ली है और 7.1 करोड़ लोगों को बीमार किया है. शुरूआत में टीके की करीब 30 लाख खुराकें भेजी जाने की उम्मीद है और स्वास्थ्य कर्मी तथा नर्सिंग होम के कर्मियों को प्राथमिकता दी जाएगी.



    अमेरिका में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी जारी है और अब तक तीन लाख से ज्यादा अमेरिकियों की मौत हो चुकी है. संघीय अधिकारियों ने बताया कि फाइजर के टीके की पहली खेप सोमवार तक 145 वितरण केंद्रों तक पहुंच जाएगी. वहीं अतिरिक्त 425 केंद्र पर यह टीका मंगलवार और बचे हुए 66 केंद्रों पर बुधवार तक पहुंच जाएगा. यह टीका फाइजर ने अपनी जर्मन साझेदार बायोएनटेक के साथ विकसित किया है. इसे प्रत्येक राज्य की वयस्क आबादी के आधार पर दिया जाएगा. इस टीके को काफी कम तापमान यानि के शून्य से करीब 94 डिग्री सेल्सियस नीचे पर रखा जा रहा है. इसके लिए फाइजर ड्राइ आइस से लैस कंटेनर और जीपीएस सेंसर का इस्तेमाल कर रहा है. संघीय अधिकारियों ने बताया कि तीन हफ्ते में यह टीका स्थानीय दवाइयों की दुकानों पर उपलब्ध होगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज