• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • नाइजीरिया: स्कूल पर हमले के बाद 337 बच्चे अभी भी लापता, 2 भारतीय भी अगवा किये गए

नाइजीरिया: स्कूल पर हमले के बाद 337 बच्चे अभी भी लापता, 2 भारतीय भी अगवा किये गए

नाइजीरिया स्कूल पर हुए हमले में अभी भी 337 बच्चे लापता (फोटो- AP)

नाइजीरिया स्कूल पर हुए हमले में अभी भी 337 बच्चे लापता (फोटो- AP)

Nigeria Crisis: नाइजीरिया के स्कूल पर हुए हमले के बाद गायब हुआ 337 बच्चों का अभी भी कुछ पता नहीं लग पाया है. इसी बीच फार्मा कंपनी में काम कर रहे 2 भारतीयों का भी अपहरण कर लिया गया है.

  • Share this:
    अबूजा. गृहयुद्ध और आतंकवाद की मार झेल रहे नाइजीरिया (Nigeria) के कैटसीना राज्य के एक स्कूल (Government Science School in Kankara) से बंदूकधारियों के हमले के बाद गायब हुए 337 बच्चे अभी भी लापता (337 students abducted) हैं. बच्चों के परिवारवालों ने शक जाहिर किया है कि उनका अपहरण किया गया है और इसके पीछे आतंकी संगठन बोको हरम का भी हाथ हो सकता है. इसी बीच नाइजीरिया में दो भारतीय नागरिकों का भी अपहरण हो गया है. अगवा किये गए दोनों भारतीय इबादान फार्मा कंपनी में काम करते थे.

    अल जजीरा के मुताबिक रविवार को कंपनी से लौटते समय उन्हें कुछ लोगों ने अगवा कर लिया. इन्हें अगवा करने से पहले इनकी गाड़ी का पिछला पहिया निकाल दिया गया था, जिससे ये भाग न सकें. अभी अगवा भारतीयों के नाम की जानकारी नहीं दी गई है. ये भी नहीं बताया गया है कि ये दोनों भारत में कहां के रहने वाले थे. साउथवेस्ट नाइजीरिया के पुलिस प्रवक्ता ओलुगबेंगा फादेयी ने कहा- पुलिस अगवा भारतीयों की तलाश करने और उन्हें बचाने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि, अभी यह नहीं बताया जा सकता कि अगवा करने वालों ने फिरौती के लिए उनके परिवार को फोन किया है या नहीं. दूसरे विदेशी नागरिक सावधान रहें. किसी तरह की संदिग्ध गतिविधि नजर आने पर पुलिस को जानकारी दें.







    स्कूल के बच्चे अभी भी लापता
    कैटसीना पुलिस के प्रवक्ता गैम्बो ईसा ने एक बयान में कहा कि कंकारा में सरकारी विज्ञान माध्यमिक विद्यालय पर शुक्रवार रात डाकुओं के बड़े समूह ने एके-47 राइफलों से गोलीबारी की थी. ईसा ने कहा कि पुलिस और हमलावरों के बीच गोलीबारी चलती रही, जिससे छात्रों को स्कूल की दीवार फांदकर सुरक्षित भाग निकलने का मौका मिल गया. उन्होंने कहा कि करीब 400 छात्र लापता हैं जबकि 200 का पता लगाया जा चुका है.

    बताया जा रहा है कि स्कूल में 600 से अधिक छात्र पढ़ते हैं. इस बीच संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने नाइजीरिया के कसीना राज्य में एक माध्यमिक स्कूल पर हुए हमले और कम से कम 400 छात्रों के लापता होने की निंदा की है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक के हवाले से बताया कि महासचिव ने अपहृत बच्चों की तत्काल और बिना शर्त रिहाई करने और उन्हें तत्काल उनके परिवारों के पास सुरक्षित वापस भेज जाने की बात कही है.



    'छात्रों की जंगलों में तलाश कर रहे'
    गुटेरेस ने दोहराया कि स्कूलों और अन्य शैक्षणिक सुविधाओं पर हमले करना मानवाधिकारों का घोर उल्लंघन है. बयान में उन्होंने नाइजीरियाई अधिकारियों से आग्रह किया है कि वे इस कृत्य के लिए जिम्मेदार लोगों को न्याय के दायरे में लाएं. महासचिव ने आतंकवाद, हिंसक उग्रवाद और संगठित अपराध के खिलाफ लड़ाई में नाइजीरिया की सरकार और वहां के लोगों को संयुक्त राष्ट्र का समर्थन देने की भी बात कही. बता दें कि 11 दिसंबर की रात को गवर्नमेंट साइंस सेकेंडरी स्कूल पर हमला हुआ था. राज्य के कांकरा इलाके में स्थित स्कूल में 839 छात्र रहते हैं. राज्य के राज्यपाल अमीनू मसारी ने रविवार को कहा, 'हमारे पास उपलब्ध रेकॉर्ड के आधार पर हम अभी भी अपहृत किए गए छात्रों की जंगलों में तलाश कर रहे हैं. हम जंगल से बाहर आ रहे बच्चों की गिनती कर रहे हैं और उनके माता-पिता से बात कर रहे हैं.'



    भारतीयों का अपहरण भी है आम
    नाइजीरिया में भारतीय समेत दूसरे देशों के लोगों का पैसों के लिए अपहरण आम बात है. फिरौती की रकम मिल जाने के बाद ऐसे लोगों को छोड़ भी देते हैं. हालांकि, नाइजीरिया पुलिस फिरौती देने की बात मुश्किल से बताती है. बता दें कि नाइजीरिया के समुद्री तट से दिसंबर 2019 में एक जहाज से 20 भारतीयों को अगवा कर लिया था. एक महीने बाद भारतीय उच्चायोग की मदद से इनमें से 18 लोगों को छुड़ाया गया था. डाकुओं की कैद में रहने के दौरान दो व्यक्ति की मौत हो गई थी. ये सभी भारतीय एमटी ड्यूक नामक पोत पर सवार थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज