Home /News /world /

क्या ब्रेस्टफीडिंग से बच्चों को कोरोना संक्रमण का खतरा? जानें एक्सपर्ट्स ने क्या कहा

क्या ब्रेस्टफीडिंग से बच्चों को कोरोना संक्रमण का खतरा? जानें एक्सपर्ट्स ने क्या कहा

ब्रेस्टफीडिंग से होता है कोरोना संक्रमण का खतरा? (Image: Shutterstock)

ब्रेस्टफीडिंग से होता है कोरोना संक्रमण का खतरा? (Image: Shutterstock)

COVID-19 virus transmission through breast feeding: अमेरिका में हाल ही में हुई स्टडी में इस बात को लेकर कोई सबूत नहीं मिले हैं कि कोविड-19 से संक्रमित महिला ब्रेस्ट फिडिंग के दौरान बच्चों को संक्रमित कर सकती है. इस स्टडी में शोधकर्ताओं ने कहा कि ब्रेस्ट मिल्क में कम मात्रा में कोविड-19 के जेनेटिक मटेरियल पाए गए हैं लेकिन ये जेनेटिर मटेरियल वायरल पार्टिकल के रूप में तब्दील होकर स्तनपान करने वाले नवजात बच्चों को संक्रमित कर सकते हैं इस बात का कोई क्लिनिकल प्रमाण नहीं मिला है.

अधिक पढ़ें ...

    वॉशिंगटन: क्या कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित महिलाओं में स्तनपान (Breastfeeding) से बच्चों में संक्रमण का खतरा होता है. अमेरिका में हाल ही में हुई स्टडी में इस बात को लेकर कोई सबूत नहीं मिले हैं. इस अध्ययन में कहा गया कि कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित महिला ब्रेस्ट फिडिंग के दौरान बच्चों को संक्रमित कर सकती है इसका कोई आधार नहीं मिला है. इस स्टडी को पेडियाट्रिक रिसर्च में पब्लिश किया गया.

    इस स्टडी में शोधकर्ताओं ने कहा कि ब्रेस्ट मिल्क में कम मात्रा में कोविड-19 के जेनेटिक मटेरियल पाए गए हैं लेकिन ये जेनेटिर मटेरियल वायरल पार्टिकल के रूप में तब्दील होकर स्तनपान करने वाले नवजात बच्चों को संक्रमित कर सकते हैं इस बात का कोई क्लिनिकल प्रमाण नहीं मिला है.

    यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के रिसर्चर ने बताया कि, इस मेडिकल रिसर्च में ब्रेस्ट मिल्क के सैंपल्स की समीक्षा की गई. यह सैंपल्स 110 महिलाओं से लिया गया. मार्च और सितंबर 2020 के बीच सेन डियागो में मम्मी मिल्क ह्यूमन बायोरेस्पटरी में डोनेटे किया गया. जहां कई महिलाओं ने ब्रेस्ट मिल्क के सैंपल दिए. इनमें से 65 महिलाएं कोविड-19 से संक्रमित थीं. हालांकि इनमें से 9 महिलाओं में लक्षण उभरे थे लेकिन इनकी टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई थी. वहीं 36 महिलाओं में लक्षण मिले थे लेकिन इन्होंने टेस्ट नहीं कराया था.

    यह भी पढ़ें: सारा अली खान के साथ हुआ हादसा, मेकअप रूम में एक्ट्रेस के चेहरे के पास हुआ बल्ब ब्लास्ट

    ब्रेस्ट मिल्क के इन सैंपल में से 7 सैंपल में शोधकर्ताओं को SARS-CoV-2 जेनेटिक मटेरियल (RNA) मिला. जो कि संक्रमित या इनमें लक्षण देखने को मिले थे. जबकि दूसरे चरण में 7 महिलाओं के ब्रेस्ट मिल्क के सैंपल 1 से 97 दिनों के अंदर लिए गए लेकिन इनमें SARS-CoV-2 RNA नहीं पाया गया.

    इस स्टडी में शोधकर्ता इस नतीजे पर पहुंचे कि वे महिलाएं जो कि कोविड-19 से संक्रमित हैं वे ब्रेस्ट फीडिंग के दौरान नवजात बच्चों को संक्रमित कर सकती हैं या दूध के जरिए वायरस बच्चों को प्रभावित कर सकता है इस बात का कोई प्रमाण नहीं मिला है.

    Tags: Coronavirus, Omicron

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर