ब्रिटेन में गैर-ईयू नागरिकों, भारतीयों को देना होगा दोगुना हेल्थ सरचार्ज

इस फैसले से सरकार की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के लिए करीब 220 मिलियन पाउंड अतिरिक्त धन इकट्ठा होने की उम्मीद है.

News18Hindi
Updated: October 13, 2018, 8:10 PM IST
ब्रिटेन में गैर-ईयू नागरिकों, भारतीयों को देना होगा दोगुना हेल्थ सरचार्ज
प्रतीकात्मक फोटो
News18Hindi
Updated: October 13, 2018, 8:10 PM IST
ब्रिटेन सरकार दिसंबर से अपने आव्रजन स्वास्थ्य अधिशुल्क (आईएचएस) को दोगुना कर सकती है. जिससे भारत समेत गैर-यूरोपीय संघ देशों के नागरिकों, स्टूडेंट, प्रोफेशनल और उनके परिवार के सदस्यों के लिए वीजा शुल्क बढ़ जाएगा.

आईएचएस की शुरुआत अप्रैल 2015 में की गई थी. ब्रिटेन के गृह कार्यालय ने कहा कि यह 200 पाउंड से 400 पाउंड प्रति वर्ष हो जाएगा. इस साल की शुरुआत में प्रस्ताव की घोषणा की गई थी और इसे इस सप्ताह संसद में रखा गया.

इस फैसले से सरकार की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के लिए करीब 220 मिलियन पाउंड अतिरिक्त धन इकट्ठा होने की उम्मीद है.

ब्रिटेन के आप्रवासन मंत्री कैरोलिन नोक्स ने कहा, 'जब भी आपको आवश्यकता होगी हमारा एनएचएस आपको साथ होगा. इसका भुगतान ब्रिटिश करदाताओं द्वारा किया जाता है. हम एनएचएस का उपयोग करने वाले लॉन्ग टर्म प्रवासियों का स्वागत करते हैं, लेकिन एनएचएस एक राष्ट्रीय सेवा है अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा नहीं. इसलिए हम चाहते हैं कि वे अपनी दीर्घकालिक स्थायित्व में उचित योगदान दें.'

उन्होंने कहा- 'यह उचित है कि ब्रिटेन आने वाले लोग एनएचएस के संचालन में योगदान दें. इस नई योजन के साथ हम अस्थायी रूप से ब्रिटेन में रहने के इच्छुक लोगों के लिए स्वास्थ्य देखभाल की अच्छी सुविधाएं देते रहेंगे.'

(इनपुट भाषा से)
Loading...

और भी देखें

Updated: December 10, 2018 10:00 AM ISTमाल्या के प्रत्यर्पण पर आज आ सकता है फैसला, लंदन रवाना हुए CBI के ज्वाइंट डायरेक्टर
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर