दक्षिण कोरिया का दावा- उत्तर कोरिया ने दागी छोटी दूरी की 2 मिसाइलें

दक्षिण कोरियाई विश्लेषण से पता चला है कि दोनों मिसाइलों को मोबाइल लांचर से दागा गया और 50 किलोमीटर (30 मील) की अधिकतम ऊंचाई पर उड़ान भरी.

News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 8:25 AM IST
दक्षिण कोरिया का दावा- उत्तर कोरिया ने दागी छोटी दूरी की 2 मिसाइलें
उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन
News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 8:25 AM IST
दक्षिण कोरिया की सेना ने दावा किया है उत्तर कोरिया ने गुरुवार को दो छोटी दूरी की मिसाइलों को समुद्र में दागा. दक्षिण के संयुक्त चीफ ऑफ स्टाफ ने कहा कि उत्तर पूर्वी तटीय शहर वॉनसन के चारों ओर से दागी गई मिसाइलों ने देश के पूर्वी तट से पानी में उतरने से लगभग 430 किलोमीटर (270 मील) पहले उड़ान भरी.

एक दक्षिण कोरियाई रक्षा अधिकारी ने विभाग के नियमों का हवाला देते हुए नाम न छापने का अनुरोध करते हुए कहा कि अमेरिका ने उन मिसाइलों में से एक का विश्लेषण किया, जिसने 430 किलोमीटर से अधिक लंबी उड़ान भरी.

अधिकारी ने कहा कि शुरुआती दक्षिण कोरियाई विश्लेषण से पता चला है कि दोनों मिसाइलों को मोबाइल लांचर से दागा गया और 50 किलोमीटर (30 मील) की अधिकतम ऊंचाई पर उड़ान भरी.

यह भी पढ़ें:  उत्तर कोरिया में करीब 100% वोटिंग, किम जोंग को मिले इतने वोट

यह हो सकते हैं उत्तर कोरिया के इरादे

कुछ पर्यवेक्षकों का कहना है कि उत्तर कोरिया के इरादे अमेरिका और अन्य को दिखाने के लिए हो सकते हैं अगर कूटनीति विफल होती है तो क्या होगा, लेकिन मिसाइलों द्वारा अपेक्षाकृत कम उड़ान दूरी से यह भी पता चलता है कि प्रक्षेपण का मकसद उकसाना नहीं था.

हाल के दिनों में, उत्तर कोरिया ने अमेरिकी और दक्षिण कोरिया की अपेक्षित ग्रीष्मकालीन सैन्य अभ्यासों पर दबाव बढ़ा दिया है कि इसे आक्रमण का पूर्वाभ्यास माना जा रहा है. पिछले हफ्ते, उत्तर कोरिया ने कहा कि वह ड्रिल के जवाब में अपने 20 महीने के परमाणु और लंबी दूरी के मिसाइल परीक्षणों को रोक हटा सकता है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी उत्तर कोरिया नीति में हथियारों की रोक को एक बड़ी उपलब्धि माना है.
Loading...

यह भी पढ़ें:  किम जोंग को इतनी तवज्जो क्यों दे रहे हैं डोनाल्ड ट्रंप

क्या कहा अमेरिका ने?

कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि  संभावित वार्ता के फिर से शुरू होने से पहले  उत्तर कोरिया द्वारा इसे अभ्यास के साथ जारी करने के लिए एक बातचीत रणनीति थी. उत्तर कोरिया अपनी खराब अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए व्यापक स्वीकृति प्राप्त करना चाहता है, लेकिन अमेरिकी अधिकारी चाहते हैं कि उत्तर कोरिया महत्वपूर्ण निरस्त्रीकरण कदम उठाए.

अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि ट्रंप प्रशासन उत्तर कोरिया से लॉन्च किए गए छोटी दूरी की मिसाइलों की रिपोर्ट्स से अवगत बहै. जवाब देने के लिए नाम न छापने की शर्त पर बोलने वाले अधिकारी ने कहा कि प्रशासन के पास इस समय कोई और टिप्पणी नहीं है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 25, 2019, 6:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...