उ. कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग ने नए साल पर जनता को लिखा खत, कहा-थैंक्स

किम जोंग उन ने जनता को नए साल पर पत्र लिखकर धन्यवाद कहा है.

किम जोंग उन ने जनता को नए साल पर पत्र लिखकर धन्यवाद कहा है.

North Korea Supreme Leader Kim Jong Un Written Letter to Public: उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर (North Korea Supreme Leader) किम जोंग उन (Kim Jong Un) पिछले कुछ वक्त से सार्वजनिक मौकों पर भावुक हो जा रहे हैं. नए साल पर किम जोंग ने खत लिखकर कहा कि मैं देश के सभी लोगों के लिए खुशियों की शुभकामनाएं करता हूं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 1:58 PM IST
  • Share this:

प्योंगयांग. उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर (North Korea Supreme Leader) किम जोंग उन (Kim Jong Un) पिछले कुछ वक्त से सार्वजनिक मौकों पर भावुक हो जा रहे हैं. ऐसा ही वाकया नए साल पर देखने को मिला. किम ने देश के लोगों को पहली बार खत लिखकर (First Letter to People in 26 Years) संबोधित किया है. उन्होंने खत में लिखा है कि मैं देश के सभी लोगों के लिए खुशियों की शुभकामनाएं करता हूं. यह बताया जा रहा है कि इससे पहले किम के पिता ने देश के नागरिकों को 26 साल पहले खत लिखा था. किम जोंग उन ने नए साल पर मुश्किल वक्त का सामना करने के लिए नागरिकों का धन्यवाद दिया है. किम हर साल एक जनवरी को टीवी के जरिये जनता को संबोधित करते हैं. अभी तक उत्तर कोरिया यह दावा करता रहा है कि उसके यहां अभी तक एक भी कोरोनावायरस का मामला सामने नहीं आया है.

पांच साल बाद होगी कांग्रेस की बैठक

देश में जल्द ही एक कांग्रेस का आयोजन होने वाला है जिसमें नए आर्थिक और राजनीतिक प्लान पर चर्चा की जाएगी. पांच साल में यह पहली बैठक होगी. साल 2016 में हुई कांग्रेस 36 साल बाद की गई थी. यह माना जा रहा है कि कांग्रेस 20 जनवरी को नव-निर्वाचित अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के शपथग्रहण समारोह से पहले होगी. गौरतलब है कि 2019 में हनोई समिट बेनतीजा होने के बाद ट्रंप प्रशासन में अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच संबंधों में तनाव बरकरार रहा.

कोरोना नियमों को तोड़ने वालों को दी सजा
किम जोंग उन ने कोरोना नियमों को तोड़ने वालों को तालिबानी किस्म से सजा दी. आरोपियों को गोलियों से भूनवा डाला. रेडियो फ्री एशिया के हवाले से डेली मेल ने लिखा है कि कोरोना नियमों को लेकर लोगों को डराने के लिए 28 नवंबर को उनके आदेश पर उत्तर कोरिया की सेना ने एक व्यक्ति को सार्वजनिक रूप से गोली मार दी. आरोपी मृतक कोरोना प्रतिबंधों को तोड़ते हुए चीन से सामान की तस्करी करते हुए पकड़ा गया था. बता दें कि उत्तर कोरिया ने अपनी सीमा को मार्च महीने से ही आधिकारिक रूप से बंद करके रखा हुआ है.

किम जोंग उन ने कोरोना नियमों को तोड़ने वालों को गोली मरवाई

सूत्रों के अनुसार, उत्तर कोरियाई प्रशासन ने सीमा क्षेत्र के निवासियों को धमकाने के लिए आरोपी को सार्वजनिक रूप से गोली मारी. जिससे लोगों के मन मे दहशत कायम रहे. किम जोंग उन को शक है कि चीन की सीमा पर बसे लोग सीमा पार के लोगों के ज्यादा संपर्क में हैं. सीमा पर कई लोग ऐसे भी हैं जो चीन से तस्करी के काम में लिप्त हैं. ऐसे में उत्तर कोरिया को डर है कि इन लोगों के जरिए देश में कोरोना वायरस का प्रसार हो सकता है. मृतक आदमी की उम्र 50 साल के आसपास बताई जा रही है. वह अपने चीनी पार्टनर के साथ कई महीनों से सीमा पार तस्करी के काम में लिप्त था.



ये भी पढ़ें: गर्भ में जुड़वा बच्चों के होते हुए फिर प्रेगनेंट हुई महिला, जानें क्या होता सुपरफेटेशन?

पाकिस्तान पीएम इमरान खान के ड्राइवर ने सऊदी अरब की अमीर महिला व्यापारी से रचाई शादी?

उत्तर कोरिया ने आधिकारिक तौर पर दावा किया है कि उसके देश में आज तक एक भी कोरोना वायरस का मामला नहीं आया है. हालांकि, उत्तर कोरिया के इस दावे को दुनिया शक की निगाहों से देखती है. उत्तर कोरिया और चीन को दुनिया के ऐसे देशों में शुमार किया जाता है जहां से तथ्य बाहर निकल पाना असंभव है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज