लाइव टीवी

कोरोना वायरस के संकट के बीच नॉर्थ कोरिया ने दागे दो बैलेस्टिक मिसाइल

News18Hindi
Updated: March 21, 2020, 11:55 AM IST
कोरोना वायरस के संकट के बीच नॉर्थ कोरिया ने दागे दो बैलेस्टिक मिसाइल
नॉर्थ कोरिया ने कोरोना वायरस के संकट के बीच दो बैलेस्टिक मिसाइल दागे हैं.

पूरी दुनिया एक तरफ कोरोना वायरस (Coronavirus) के संकट से जूझ रही है, वहीं नॉर्थ कोरिया (North Korea) बैलेस्टिक मिसाइल (Ballistic Missile) दागने में लगा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2020, 11:55 AM IST
  • Share this:
पूरी दुनिया एक तरफ कोरोना वायरस (Coronavirus) के संकट से जूझ रही है, वहीं नॉर्थ कोरिया (North Korea) बैलेस्टिक मिसाइल (Ballistic Missile) दागने में लगा है. शनिवार को नॉर्थ कोरिया ने अपने पूर्वी तटीय इलाके में दो बैलेस्टिक मिसाइल दागे हैं. सियोल मिलिट्री की तरफ से कहा गया है कि नॉर्थ कोरिया ने दो छोटी दूरी के बैलेस्टिक मिसाइल दागे हैं.

बताया जा रहा है कि नॉर्थ कोरिया ने नॉर्थ प्योंगन प्रांत से जापान के सागर में दो बैलेस्टिक मिसाइल दागे हैं. जापान के सागर को पूर्वी सागर के नाम से भी जाना जाता है. इस बारे में साउथ के जॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने जानकारी दी है. हालांकि इस बारे में और ज्चादा जानकारी नहीं मिल पा रही है.

साउथ कोरिया की तरफ से कहा गया है कि उनकी मिलिट्री इसी तरह के किसी दूसरे लॉन्च पर निगरानी रख रही है और अपनी तरफ से भी तैयारी रखी जा रही है.

नॉर्थ कोरिया अपनी सैन्य क्षमता बढ़ाने में लगा



जापान के रक्षा मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि नॉर्थ कोरिया ने बैलेस्टिक मिसाइल की तरह कोई चीज छोड़ी है. इसके साथ ही कहा गया है कि जापान के क्षेत्र की ओर कोई चीज आती नहीं दिख रही है और न ही जापान के एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन की दिशा में कोई चीज दिखी है.

इसी महीने न्यूक्लियर हथियारों से लैस नॉर्थ कोरिया ने इसी तरह के लॉन्च किए थे. ऐसा दो मौकों पर किया गया था. प्योंगयांग की तरफ से कहा गया था कि उन्होंने लंबी दूरी के हथियारों की मारक क्षमता जानने के लिए ड्रिल की है. लेकिन जापान ने कहा था कि ये बैलेस्टिक मिसाइल लॉन्च थे.

अमेरिकी प्रतिबंधों के बावजूद नॉर्थ कोरिया की ये ताजा बैलेस्टिक मिसाइल लॉन्च है. विशेषज्ञ बता रहे हैं कि नॉर्थ कोरिया लगातार अपनी सैनिक क्षमता बढ़ाता जा रहा है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की एक साल पहले हुई मुलाकात के बाद भी नॉर्थ कोरिया हथियारों की होड़ में शामिल है. ट्रंप और किम जोंग उन की हनोई में हुई मुलाकात विफल रही थी.

कोरोना वायरस को लेकर जानकारी छुपा रहा है नॉर्थ कोरिया
बैलेस्टिक मिसाइल लॉन्च से ठीक पहले नॉर्थ कोरिया की आधिकारिक सेंट्रल न्यूज एजेंसी की तरफ से कहा गया कि कोरोना वायरस की महामारी के बावजूद नॉर्थ कोरिया 10 अप्रैल को अपने संसद की बैठक करेगा.

एक हफ्ते पहले ही नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के साउथ कोरिया के राष्ट्रपति को एक खत लिखा था. इसमें उसने कोरोना वायरस से निपटने में मदद की पेशकश की थी. साउथ कोरिया में कोरोना वायरस के संक्रमण ने भयानक तबाही मचाई है. हालांकि सियोल में संक्रमण ज्यादा नहीं फैला है. वहीं नॉर्थ कोरिया की तरफ से कहा गया है कि उनके यहां संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है.

हालांकि नॉर्थ कोरिया के दावे पर भरोसा करना मुश्किल है. ऐसा कहा जा रहा है कि नॉर्थ कोरिया कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलो को छुपा रहा है.
ये भी पढ़ें:

कोरोना वायरस से बेपरवाह युवाओं को WHO की चेतावनी- आप भी खतरे से बाहर नहीं
अमेरिका की टॉप लीडरशिप के नजदीक पहुंचा कोरोना वायरस, उपराष्ट्रपति का स्टाफ संक्रमित
कैंसर से जीत गया लेकिन कोरोना वायरस ने छीनी जिंदगी, सिर्फ 2 हफ्ते में हुई मौत
अमेरिका में शर्मनाक है कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच का तौर तरीका
कोरोना वायरस के संक्रमण का शिकार बना दुनिया का दूसरा कुत्ता, पहले की हो चुकी है मौत
इटली में कोरोना वायरस का कोहराम, चीन से भी ज्यादा हुई मौतें
जानिए निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने पर अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने क्या लिखा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 21, 2020, 11:17 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर