लाइव टीवी

उत्तर कोरिया ने कहा: अमेरिका की शत्रुतापूर्ण नीतियों के खत्म होने तक वार्ता नहीं

भाषा
Updated: October 6, 2019, 8:50 PM IST
उत्तर कोरिया ने कहा: अमेरिका की शत्रुतापूर्ण नीतियों के खत्म होने तक वार्ता नहीं
उत्तर कोरिया ने कहा, ऐसी बेकार की वार्ता करने का हमारा कोई इरादा नहीं है....

उत्तर कोरिया ने कहा, 'ऐसी बेकार की वार्ता करने का हमारा कोई इरादा नहीं है....'

  • Share this:
सोल. उत्तर कोरिया (North Korea) ने रविवार को कहा कि अमेरिका (America) द्वारा उसके खिलाफ शत्रुता खत्म करने के लिए कदम उठाये जाने तक परमाणु वार्ता जारी रखने का उसका कोई इरादा नहीं है.

स्वीडन (Sweden) में वार्ता रुकने के एक दिन बाद उत्तर कोरिया ने यह कहा है. उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन (Kim Jong Un) और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Doanld trump) के बीच फरवरी में हुई एक बैठक के बाद कई महीनों तक चले गतिरोध के बाद यह चर्चा हुई.

उत्तर कोरिया ने स्वीडन की वार्ता को बीच में ही छोड़ते हुए कहा कि अमेरिका द्वारा नये और रचनात्मक समाधान नहीं पेश किया जाना निराश करने वाला है. वहीं, अमेरिका ने कहा है कि वह दो हफ्तों में फिर से बैठक करने को इच्छुक है.

उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि एक और बैठक का अमेरिका का दावा बेबुनियाद है.

अमेरिका का दावा अलग
उत्तर कोरिया की समाचार एजेंसी के मुताबिक प्रवक्ता ने चेतावनी दी कि यदि अमेरिका ने अपना पुराना रवैया नहीं छोड़ा तो वार्ता तुरंत टूट जाएगी.

उन्होंने कहा, 'अमेरिका द्वारा शत्रुतापूर्ण नीतियों के खत्म करने के लिए व्यावहारिक कदम उठाने तक इस तरह की वार्ता की प्योंगयांग की कोई इच्छा नहीं है.'कोरिया ने कहा - भविष्य अमेरिका के हाथ में
उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया की वार्ता का भविष्य अमेरिका के हाथों में है और इसकी समय सीमा इस साल के अंत तक है.

हालांकि, अमेरिका ने कहा है कि इस बैठक में अच्छी चर्चा हुई और उत्तर कोरिया की टिप्पणी में वह चीज या भावना नहीं झलकती है जो साढ़े आठ घंटे की चर्चा में हुई.

यह भी पढ़ें:  उत्तर कोरिया ने परमाणु वार्ता को बताया बेनतीजा, US ने कहा- अच्छी रही बातचीत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 6, 2019, 8:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर