Home /News /world /

कौन हैं लीना नायर? जो बनीं फ्रांस के लग्जरी ग्रुप शनैल की CEO

कौन हैं लीना नायर? जो बनीं फ्रांस के लग्जरी ग्रुप शनैल की CEO

लीना नायर महाराष्ट्र के कोल्हापुर की रहने वाली हैं.

लीना नायर महाराष्ट्र के कोल्हापुर की रहने वाली हैं.

Who is Leena Nair: 52 साल की लीना नायर ( Leena Nair)8 साल पहले 2013 में भारत से लंदन शिफ्ट हो गई थीं. तब उन्होंने वहां एंग्लो-डच कंपनी के लंदन हेक्वार्टर में लीडरशिप और ऑर्गेनाइजेशन डेवलपमेंट की ग्लोबल वाइस प्रेसिडेंट का पद संभाला था. बाद में उन्हें 2016 में प्रमोट किया गया और वह यूनिलीवर (Unilever)की पहली महिला, पहली एशियाई और सबसे कम उम्र की CHRO बन गईं.

अधिक पढ़ें ...

    पेरिस. भारतीय मूल की लीना नायर (Leena Nair) को फ्रांस के लग्जरी ग्रुप शनैल (Chanel) ने मंगलवार को लंदन में अपना नया ग्लोबल चीफ एग्जीक्यूटिव (CEO) नियुक्त किया है. लीना इससे पहले यूनिलीवर में बतौर चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर (CHRO) थी. शनैल अपने ट्वीड सूट, क्विल्टेड हैंडबैग और No. 5 परफ्यूम के लिए पहचाना जाता है. लीना नायर अगले साल जनवरी में कंपनी में आधिकारिक तौर पर शामिल हो जाएंगी.

    52 साल की लीना नायर 8 साल पहले 2013 में भारत से लंदन शिफ्ट हो गई थीं. तब उन्होंने वहां एंग्लो-डच कंपनी के लंदन हेक्वार्टर में लीडरशिप और ऑर्गेनाइजेशन डेवलपमेंट की ग्लोबल वाइस प्रेसिडेंट का पद संभाला था. बाद में उन्हें 2016 में प्रमोट किया गया और वह यूनिलीवर की पहली महिला, पहली एशियाई और सबसे कम उम्र की CHRO बन गईं.

    बाइडन ने समलैंगिक भारतीय-अमेरिकी को व्हाइट हाउस में दी ये बड़ी जिम्मेदारी

    LEENA

    पिछले महीने ही लीना नायर को फॉर्चून इंडिया ने मोस्ट पावरफुल वुमेन लिस्ट में शामिल किया था.

    XLRI की गोल्ड मेडलिस्ट रही हैं लीना
    लीना नायर महाराष्ट्र के कोल्हापुर की रहने वाली हैं. उन्होंने अपनी स्कूलिंग महाराष्ट्र के कोल्हापुर के होली क्रॉस कॉन्वेंट स्कूल से पूरी की है. सांगली में वालचंद कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से लीना ने इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की. इसके बाद उन्होंने जमशेदपुर के जेवियर्स स्कूल ऑफ मैनेजमेंट (XLRI) से एमबीए की डिग्री ली. यहां लीना अपने बैच की गोल्ड मेडलिस्ट भी रहीं.

    भारतीय मूल की नीली बेंदापुडी ने US में रचा इतिहास, बनेंगी पेन स्टेट यूनिवर्सिटी की पहली महिला अध्यक्ष

    मैनेजमेंट ट्रेनी से कंपनी की CHRO बन गईं
    लीना ने जिस हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (HUL) में 30 साल पहले (1992 में) बतौर मैनेजमेंट ट्रेनी करियर की शुरुआत की, वहां 2016 में वे CHRO के पोस्ट तक पहुंच गईं. हिन्दुस्तान लीवर ने बाद में अपना नाम बदनकर यूनिलीवर कर लिया था. उन्हें पिछले महीने ही फॉर्चून इंडिया ने मोस्ट पावरफुल वुमेन लिस्ट में शामिल किया था. (एजेंसी इनपुट)

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर