प्रवासी कारोबारी ने एक करोड़ रु. मुआवजा देकर हत्या के दोषी भारतीय नागरिक को कराया रिहा

कॉन्सेप्ट इमेज.

कॉन्सेप्ट इमेज.

एक सुडानी लड़के की हत्या (Murder) के मामले में मृत्युदंड पाने वाले भारतीय नागरिक के लिए एक प्रवासी कारोबारी फरिश्ता बनकर सामने आया. उसने एक करोड़ रु. मुआवजा (Compensation) देकर 45 वर्षीय बेक्स कृष्णन को रिहा करवाया.

  • Share this:

अबू धाबी. संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में 2012 में एक सड़क हादसे में एक सूडानी लड़के की हत्या (Murder) के मामले में मृत्युदंड पाने वाले 45 वर्षीय भारतीय बेक्स कृष्णन ने अपने रिहा होने और स्वदेश लौटकर अपने परिवार से मिल पाने की उम्मीद छोड़ दी थी, लेकिन प्रवासी कारोबारी एम ए यूसुफ अली ने एक करोड़ रु मुआवजा देकर उसे जेल से रिहा करा लिया. केरल के रहने वाले कृष्णन ने सितंबर 2012 में लापरवाही से कार चलाते हुए बच्चों के एक समूह को टक्कर मार दी थी. कृष्णन को एक सूडानी लड़के की हत्या का दोषी पाए जाने के बाद यूएई की सुप्रीम कोर्ट ने मौत की सजा दी थी. इसके बाद से कृष्णन के परिजन और मित्र उसे रिहा कराने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन वे ऐसा नहीं कर पाए, क्योंकि पीड़ित का परिवार अपने देश सूडान लौट चुका है, जिसके कारण वे उन्हें माफी देने के लिए नहीं मना पाए.

इसके बाद कृष्णन के परिवार ने लुलु समूह के अध्यक्ष यूसुफ अली से संपर्क किया, जिन्होंने मामले की सारी जानकारी हासिल की और सभी पक्षकारों के बात की. लुलु समूह ने यहां एक बयान में बताया कि पीड़ित का परिवार जनवरी 2021 में कृष्णन को माफी देने के लिए अंतत: तैयार हो गया. इसके बाद यूसुफ अली ने कृष्णन की रिहाई के लिए अदालत में पांच लाख दिरहम (करीब एक करोड़ रुपए) मुआवजा दिया.

कृष्णन बुधवार को यहां अल वतबा जेल में भारतीय दूतावास अधिकारियों से बातचीत के दौरान बहुत भावुक हो गयाएक बयान में कृष्णन के हवाले से कहा गया, ‘‘यह मेरे लिए पुनर्जन्म है, क्योंकि मैंने बाहर की दुनिया देखने और आजाद जीवन जीने की सभी उम्मीदें छोड़ दी थीं. अब मेरी एकमात्र इच्छा अपने परिवार से मिलने जाने से पहले यूसुफ अली से मुलाकात करने की है.’’

Youtube Video

ये भी पढ़ें: अफगानिस्तान में आतंकवाद पर बड़ी कार्रवाई, 24 घंटे में 100 से ज्यादा तालिबानी आतंकी ढेर

यूसुफ अली ने कृष्णन की रिहाई के लिए ईश्वर और संयुक्त अरब अमीरात के दूरदर्शी शासकों की उदारता को धन्यवाद दिया. उन्होंने कृष्णन के खुशहाल एवं शांतिपूर्ण जीवन की कामना की. लुलु ग्रुप के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कृष्णन की रिहाई संबंधी कानूनी प्रक्रिया बृहस्पतिवार को पूरी हो गईं और उसके जल्द ही अपने गृह राज्य केरल जाने की उम्मीद है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज