अपना शहर चुनें

States

ओबामा, बुश और क्लिंटन कैमरे के सामने लेंगे कोरोना वैक्सीन, लोगों में बढ़ाना चाहते हैं भरोसा

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, बिल क्लिंटन और जॉर्ज बुश साथ एक टीवी कार्यक्रम में लेंगे कोरोना वैक्सीन.
पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, बिल क्लिंटन और जॉर्ज बुश साथ एक टीवी कार्यक्रम में लेंगे कोरोना वैक्सीन.

Coronavirus Vaccine Update: अमेरिकी फ़ूड व ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) से कोरोना वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बावजूद 40% लोग इसके प्रति आशंकित हैं. लोगों में भरोसा पैदा करने के लिए 3 पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, बिल क्लिंटन और जॉर्ज बुश साथ एक टीवी कार्यक्रम में ये वैक्सीन लेने वाले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2020, 12:02 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी लोगों में कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) के प्रति भरोसा बढ़ाने के लिए अब तीन पूर्व राष्ट्रपति सामने आए हैं. अमेरिका के तीन पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा (Barack Obama), जॉर्ज डब्लू बुश (George W Bush) और बिल क्लिंटन (Bill Clinton) ने एक साथ इस वैक्सीन को कैमरे के सामने लेने के लिए हामी भर दी है. तीनों का मानना है कि उनके इस कदम से अमेरिका के लोगों में न सिर्फ वैक्सीन के प्रति भरोसा बढ़ेगा बल्कि कोरोना से लड़ाई के लिए लोगों में हिम्मत भी आएगी. गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक तीनों एक साथ एक टीवी कार्यक्रम में वैक्सीन ले सकते हैं.

कोरोना वैक्सीन को अमेरिकी फ़ूड व ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) की मंज़ूरी मिल जाने के बावजूद लोगों में कोरोना वायरस वैक्सीन के प्रभाव को लेकर लोगों के मन में अब भी संदेह बना हुआ है. बुधवार को एक इंटरव्यू में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि उन्हें शीर्ष अमेरिकी संक्रामक रोग विशेषज्ञ एंथनी फॉसी पर पूरा भरोसा है. उन्होंने ही मुझे बताया है कि यह वैक्सीन सुरक्षित है. इसलिए, मैं इसकी डोज लेने जा रहा हूं. उन्होंने कहा कि मैं टीवी पर लाइव इस वैक्सीन को लगवा सकता हूं, या इसकी रिकॉर्डिंग की जा सकती है, ताकि लोगों को यह पता चले कि मुझे इस वैक्सीन के विज्ञान पर पूरा भरोसा है.

वैक्सीन को लेकर लोगों में भरोसा नहीं
बराक ओबामा ने यह माना कि अफ्रीकी अमेरिकी समुदाय में बहुत लोग ऐसे हैं, जिन्हें इस वैक्सीन पर विश्वास नहीं है. उन्होंने जोर देकर कहा कि बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन पोलियोमाइलाइटिस जैसी बीमारियों को खत्म करते हैं और खसरा और चेचक से होने वाली सामूहिक मौतों को रोकते हैं. बुधवार को ही अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्लू बुश के के चीफ ऑफ स्टाफ फ्रेडी फोर्ड ने बताया कि उन्होंने डॉ. फॉसी और वाइट हाउस के कोरोना वैक्सीन प्रतिक्रिया टीम से बात की है. बुश ने बातचीत के दौरान टीम से पूछा कि वह टीके को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए क्या कर सकते हैं. फ्रेडी फोर्ड ने कहा कि सबसे पहले वैक्सीन को सुरक्षित समझा जाना चाहिए और प्राथमिकता के हिसाब से लोगों को दिया जाना चाहिए. इसके लिए पूर्व राष्ट्रपति बुश भी लाइन में लगकर खुशी से कैमरे पर वैक्सीन लगवाएंगे.
क्लिंटन भी तैयार


पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने भी कहा है कि वह सार्वजनिक रूप से कोरोना वायरस वैक्सीन को लेने के लिए तैयार हैं. क्लिंटन की प्रवक्ता एंजल उरेना ने कहा कि सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों के प्राथमिकता के आधार पर राष्ट्रपति क्लिंटन निश्चित रूप से कोरोना वैक्सीन लेंगे. अगर यह सभी अमेरिकियों में वैक्सीन के प्रति विश्वास पैदा करने में सहायक होगा तो वह सार्वजनिक रूप से वैक्सीन ले सकते हैं.



नवंबर महीने में गैलप पोल के एक सर्वे में अमेरिकियों के मन में कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर काफी डर देखा गया है. चालीस प्रतिशत अमेरिकी लोगों ने यह कहा है कि वह कोरोना वैक्सीन की डोज नहीं लेंगे. इन लोगों के मन में वैक्सीन के शरीर के ऊपर रिएक्शन को लेकर संदेह है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज