Home /News /world /

वैक्सीन नहीं लेने वालों के लिए ओमिक्रॉन बड़ा खतरा! एक्सपर्ट ने चेताया- ICU में भर्ती होने की आ सकती है नौबत

वैक्सीन नहीं लेने वालों के लिए ओमिक्रॉन बड़ा खतरा! एक्सपर्ट ने चेताया- ICU में भर्ती होने की आ सकती है नौबत

डॉक्टर एंजेलीक कोएट्जी ने चेतावनी दी है कि भले ही नया स्ट्रेन टीकाकरण करा चुके लोगों को गंभीर रूप से बीमार न करे, लेकिन यह वैक्सीन नहीं लेने वालों को बुरी तरह संक्रमित कर सकता है. (फोटो: ANI)

डॉक्टर एंजेलीक कोएट्जी ने चेतावनी दी है कि भले ही नया स्ट्रेन टीकाकरण करा चुके लोगों को गंभीर रूप से बीमार न करे, लेकिन यह वैक्सीन नहीं लेने वालों को बुरी तरह संक्रमित कर सकता है. (फोटो: ANI)

Omicron in World: एक्सपर्ट ने कहा, 'टीकाकरण नहीं कराने वाले लोग ही हैं, जिन्हें ICU में भर्ती करना पड़ सकता है. मैं यह जरूर कहूंगी कि हमारे देश में वैक्सीन नहीं लेने वालों की तुलना में टीकाकरण करा चुके लोग हल्के लक्षणों का अनुभव कर रहे हैं. लेकिन यह तस्वीर आज बदल गई. आज, मैंने टीका लगवा चुके ऐसे कई लोगों को देखा, जिन्हें दोबारा या ब्रेकथ्रू संक्रमण हुआ है.' डॉक्टर कोएट्जी ने आगे बताया कि इनमें से ज्यादार लोगों ने जुलाई से सितंबर के बीच वैक्सीन ली थी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए वेरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ की पहली बार पहचान करने वाली डॉक्टर एंजेलीक कोएट्जी (Dr Angelique Coetzee) ने चौंकाने वाली जानकारी दी है. उन्होंने सोमवार को बताया कि दक्षिण अफ्रीका में ICU में भर्ती 10 में से 9 ओमिक्रॉन मरीजों ने टीका नहीं लगवाया था. इससे पहले भी कई जानकार कोरोना वायरस के इस नए स्वरूप के खिलाफ टीकाकरण (Vaccination) की भूमिका को अहम बता चुके हैं. डॉक्टर कोएट्जी ने बताया कि ओमिक्रॉन वेरिएंट तेजी से फैलने वाला है. भारत में अब तक ओमिक्रॉन के 161 मामले मिल चुके हैं. हालांकि, इनमें से ज्यादातर मरीजों में हल्के लक्षण ही नजर आ रहे हैं.

    समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, डॉक्टर कोएट्जी ने चेतावनी दी है कि भले ही नया स्ट्रेन टीकाकरण करा चुके लोगों को गंभीर रूप से बीमार न करे, लेकिन यह वैक्सीन नहीं लेने वालों को बुरी तरह संक्रमित कर सकता है. उन्होंने कहा, ‘…मुझे नहीं पता कि आपके डॉक्टर ओमिक्रॉन की गंभीरता के बारे में क्या कह रहे हैं, लेकिन मैंने अभी तक ओमिक्रॉन का गंभीर मामला नहीं देखा है. उम्मीद है कि वे केवल हमारी तरह हल्के मामले ही देख रहे हैं, लेकिन वैक्सीन नहीं लेने वाले गंभीर रूप से संक्रमित हो सकते हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ सकती है.’

    उन्होंने कहा, ‘टीकाकरण नहीं कराने वाले लोग ही हैं, जिन्हें ICU में भर्ती करना पड़ सकता है. मैं यह जरूर कहूंगी कि हमारे देश में वैक्सीन नहीं लेने वालों की तुलना में टीकाकरण करा चुके लोग हल्के लक्षणों का अनुभव कर रहे हैं. लेकिन यह तस्वीर आज बदल गई. आज, मैंने टीका लगवा चुके ऐसे कई लोगों को देखा, जिन्हें दोबारा या ब्रेकथ्रू संक्रमण हुआ है.’ डॉक्टर कोएट्जी ने आगे बताया कि इनमें से ज्यादार लोगों ने जुलाई से सितंबर के बीच वैक्सीन ली थी.

    यह भी पढ़ें: Omicron in Delhi: दिल्ली में 24 हुई ‘ओमिक्रॉन’ संक्रमितों की संख्या, UAE से लौटे थे अधिकांश मरीज

    डॉक्टर कोएट्जी करीब 100 ओमिक्रॉन मरीजों की निगरानी कर चुकी है. वे बताती हैं कि नया वेरिएंट डेल्टा वेरिएंट से ज्यादा तेजी से फैलता है. उन्होंने कहा, ‘जिन 100 मरीजों को मैंने देखा है, ओमिक्रॉन तेजी से फैलने वाला है. अगल मैं डेल्टा को देखूं, तो यह कम नजर आता है, लेकिन ऐसा नहीं है. निश्चित रूप से यह बहुत तेजी से फैलने वाला है. परिवार में एक मरीज करीब 90 फीसदी परिवार को संक्रमित कर सकता है.’

    उन्होंने आगे समझाया कि दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन का मामला मिले करीब 5 हफ्ते हो गए हैं. ज्यादातर मरीजों में शरीर दर्द, सिरदर्द, थकान, सूखी खांसी और अपर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट में संक्रमण जैसे लक्षण देखे जा रहे हैं.

    Tags: Coronavirus, Dr Angelique Coetzee, Omicron

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर