Home /News /world /

बड़ा खुलासा: साउथ अफ्रीका में नहीं मिला था 'ओमिक्रॉन', इस देश में आया था सबसे पहला केस, जानें

बड़ा खुलासा: साउथ अफ्रीका में नहीं मिला था 'ओमिक्रॉन', इस देश में आया था सबसे पहला केस, जानें

साउथ अफ्रीका से पहले नीदरलैंड में मिला ओमिक्रॉन वेरिएंट, डच हेल्थ अथॉरिटी का दावा (फाइल फोटो)

साउथ अफ्रीका से पहले नीदरलैंड में मिला ओमिक्रॉन वेरिएंट, डच हेल्थ अथॉरिटी का दावा (फाइल फोटो)

Omicron variant detected in Netherlands earlier than South Africa: कोरोनावायरस का नया वेरिएंट साउथ अफ्रीका से पहले नीदरलैंड में पाया गया था. दरअसल डच हेल्थ अथॉरिटी ने दावा किया है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट पहले से नीदरलैंड में पाया गया था. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ के अनुसार, 19 और 23 नवंबर को लिए गए दो टेस्ट सैंपल में ओमिक्रॉन वेरिएंट मिला था. हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि इन लोगों ने साउथ अफ्रीका (South Africa) की यात्रा की थी.    

अधिक पढ़ें ...

    एम्स्टर्डम: कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) को लेकर एक और खुलासा हुआ है. यह वेरिएंट साउथ अफ्रीका से पहले नीदरलैंड में मिला था. दरअसल डच अथॉरिटी का कहना है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट पहले से नीदरलैंड में पाया गया था. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ के अनुसार, 19 और 23 नवंबर को लिए गए दो टेस्ट सैंपल में ओमिक्रॉन वेरिएंट मिला था. हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि इन लोगों ने साउथ अफ्रीका (South Africa) की यात्रा की थी.

    अधिकारियों ने बताया कि 26 नवंबर को साउथ अफ्रीका के जोहन्सबर्ग और केपटाउन से करीब 14 यात्री एम्स्टर्डम पहुंचे थे. इन लोगों ने इस बारे में हेल्थ अथॉरिटी को सूचना दी थी जिसके बाद अब इन यात्रियों की जांच की जा रही है. वहीं साउथ अफ्रीका में ओमिक्रॉन वेरिएंट का पहला मामला 24 नवंबर को सामने आया था. जिसकी जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन को दी गई थी.

    इससे पहले यह माना जा रहा था कि नीदरलैंड में 26 नवंबर को साउथ अफ्रीका से एम्सटर्डम पहुंचे 14 यात्री ओमिक्रॉन संक्रमण से पीड़ित थे. हेल्थ अथॉरिटी ने कहा कि आने वाले दिनों में नीदरलैंड में ओमिक्रॉन वेरिएंट के संक्रमण को लेकर विभिन्न स्टडी पर काम किया जाएगा और पूर्व में लिए गए टेस्ट सैंपल की दोबारा जांच की जाएगी. यूरोपीय देशों में नीदरलैंड में सबसे अधिक ओमिक्रॉन संक्रमण के 16 केस मिले हैं.

    बता दें कि ओमिक्रॉन वेरिएंट के बारे में पता चलने के बाद दुनिया के तमाम देशों में कोविड नियमों को लेकर सख्ती बढ़ा दी गई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस वेरिएंट को बेहद गंभीर बताया है जिसमें 50 से ज्यादा स्पाइक म्यूटेशन है जो कि गंभीर बीमारियों का कारण बन सकते हैं और वैक्सीन ले चुके लोगों को भी दोबारा से संक्रमित कर सकते हैं. सबसे पहले साउथ अफ्रीका में मिले इस स्ट्रेन की खबर के बाद, कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका समेत अन्य अफ्रीकी देशों पर ट्रैवल बैन लगा दिया है.

    Tags: Covid, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर