US Election 2020: सत्ता संभालने के लिए तैयार जो बाइडन, सबसे पहले बदलेंगे ट्रंप के कई बड़े फैसले - रिपोर्ट

ट्रंप के कई बड़े फैसले पलटने की तैयारी में बाइडन
ट्रंप के कई बड़े फैसले पलटने की तैयारी में बाइडन

US Election Result: CNN की एक रिपोर्ट के मुताबिक बाइडन (Joe Biden) सत्ता संभालने के बाद पहले ही दिन डे-वन एक्जीक्यूटिव ऑर्डर लाकर डोनाल्ड ट्रंप के कई बड़े फैसलों को पलटने की तैयारी में हैं. माना जा रहा है कि बाइडन मुस्लिम देशों पर लगा ट्रेवल बैन भी हटाने की तैयारी में हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 11:21 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के नए चुने गए राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने सत्ता अपने हाथ में लेने की शुरुआत कर दी है. CNN की एक रिपोर्ट के मुताबिक सत्ता संभालते ही बाइडन ने डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के कई बड़े फैसलों को डे-वन एक्जीक्यूटिव ऑर्डर के जरिए पलटने की तैयारी भी कर ली है. बाइडन 20 जनवरी को शपथ लेंगे और उससे पहले ही उन्होंने सत्ता हस्तांतरण की तैयारी भी शुरू कर दी है. बाइडन और हैरिस ने इसके लिए वेबसाइट BuildBackBetter.com और ट्विटर अकाउंट @Transition46 भी बनाया है. उधर ट्रंप अभी भी हार मानने के लिए तैयार नहीं हैं, उन्हें नतीजों पर अब भी शक है.

इस रिपोर्ट के मुताबिक बाइडन का पहला फोकस कोरोना महामारी से निपटने पर रहेगा. उनके कैंपेन का सबसे बड़ा वादा भी यही था कि महामारी पर जल्द से जल्द काबू पाया जाएगा. बाइडन जल्द ही 12 सदस्यों की एक कोरोना वायरस टास्क फोर्स बना सकते हैं जिसकी जिम्मेदारी वे भारतीय मूल के डॉक्टर विवेक मूर्ति को सौंप सकते हैं. इसके अलावा बाइडन फिर से डॉक्टर एंथनी फॉसी की सेवाएं भी ले सकते हैं. बाइडन ने स्पष्ट कर दिया है कि वो ट्रंप की विदेश नीति से जुड़े कई फैसलों से सहमत नहीं हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि पदभार संभालते ही बाइडन डे-वन एक्जीक्यूटिव ऑर्डर लाकर कई बड़े फैसले पलट सकते हैं.

इन 4 चीजों पर रहेगा फोकस
बाइडन की टीम ने ट्रांजिशन वेबसाइट में चार चीजों को प्रमुखता दी है- कोरोना वायरस, आर्थिक मजबूती, नस्लीय समानता और क्लाइमेट चेंज. डेमोक्रेट्स की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि पहले दिन (20 जनवरी 2021) से ही इन चुनौतियों पर हमारी नजर रहेगी. बताया जा रहा है कि बाइडन ऐसी कैबिनेट बनाना चाहते हैं, जिससे देश की विविधता दिख सके. कोरोना से लड़ाई में ट्रंप की नाकामी को बाइडन ने प्रमुख मुद्दा बनाया था. वहीं, बाइडन पेरिस क्लाइमेट समझौते दोबारा से जॉइन करने पर भी विचार कर रहे हैं. साथ ही वो मुस्लिम देशों पर लगाए ट्रैवल बैन के ट्रंप के ऑर्डर को उलट सकते हैं.



उधर पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश (74) ने कहा है कि चीजें तय हो चुकी हैं. अलग तरीके से अपनी बात रखते हुए बुश बोले कि मैंने प्रेसिडेंट इलेक्ट बाइडन और कमला हैरिस को कहा था कि उन्हें मिल रही शुभकामनाओं को और विस्तार देना चाहिए. क्या ट्रंप को दोबारा गिनती का हक है, इस पर बुश ने कहा कि अमेरिकियों को भरोसा है कि चुनाव निष्पक्ष तरीके से हुए हैं. हमारी मजबूती बरकरार रहेगी. चीजें साफ हो चुकी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज