आर्टिकल 370: UN में पाकिस्तान को सबक सिखाने की तैयारी में भारत, ये है प्लान

कश्मीर मसले (Kashmir Issue) पर भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (United Nations Security Council) के पांच स्थायी और 10 अस्थायी सदस्यों के साथ बातचीत कर रहा है. न्यूयॉर्क में भारतीय अधिकारी इन सदस्यों से बातचीत शुरू कर दी है.

News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 10:11 AM IST
आर्टिकल 370: UN में पाकिस्तान को सबक सिखाने की तैयारी में भारत, ये है प्लान
पाकिस्तान को घेरने की तैयारी
News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 10:11 AM IST
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 (article 370) को हटाने के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. इमरान खान की सरकार ने भारत को धमकी दी है कि वो इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र (United Nation) में उठाएगा. लेकिन UN में पाकिस्तान को करारा जवाब देने के लिए भारत ने तैयारी शुरू कर दी है.

ये है भारत का प्लान
इकनॉमिक टाइम्स के मुताबिक, भारत ने इसके लिए खास प्लान तैयार किया है. इसके तहत भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी और 10 अस्थायी सदस्यों के साथ बातचीत कर रहा है. न्यूयॉर्क में भारतीय अधिकारी इन सदस्यों से बातचीत शुरू कर दी है. उन्हें बताया जा रहा है कि भारत ने जम्मू और कश्मीर से आखिर क्यों आर्टिकल 370 हटाया. साथ ही उन्हें ये भी समझाया जा रहा है कि आर्टिकल 370 को हटाने से वहां के स्थानीय लोगों को आर्थिक तौर पर क्या-क्या फायदे होंगे. इसके अलावा कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों के पीछे पाकिस्तान का हाथ होने के बारे में भी सुरक्षा परिषद के सदस्यों को बताया जा रहा है.

आर्टिकल 370 के बयान पर घेरने की तैयारी

भारत पाकिस्तान की सेना के उस बयान का भी जिक्र करने वाला है जिसमें उसने कहा था कि इस्लामाबाद कभी भी आर्टिकल 370 और 35A को मान्यता नहीं देता है. ये बयान पाकिस्तान के पक्ष को खासा कमज़ोर कर सकता है. सवाल उठता है कि अगर वो इस आर्टिकल को मान्यता नहीं देता है, तो फिर इसको लेकर वो बवाल क्यों खड़ा कर रहा है.

पाकिस्तान का यूटर्न
पाकिस्तान  के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने गुरुवार को कहा कि भारत अगर कश्मीर पर अपने कदमों पर पुनर्विचार को राजी हो जाता है, तो इस्लामाबाद उसके खिलाफ राजनयिक संबंधों को कम करने सहित अपने निर्णयों की समीक्षा करने को तैयार है.
Loading...

पहले कुरैशी ने दी ती धमकी
इससे पहले कुरैशी ने कहा था कि पाकिस्तान ने भारत के फैसले को चुनौती देने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद जाने का फैसला किया है. उन्होंने कहा था, ‘‘पाकिस्तान सैन्य विकल्प पर विचार नहीं कर रहा है. इसकी जगह हम मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए राजनीतिक, कूटनीतिक और कानूनी विकल्पों पर विचार कर रहे हैं."

ये भी पढ़ें:

SBI की खास सर्विस! अब घर दिलाएगा आपको पेंशन, जानें स्कीम

केंद्र शासित प्रदेश बनने से कर्मचारियों को मिलेगा फायदा- PM
First published: August 9, 2019, 8:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...