इंग्लैंड में 1000 में से एक व्यक्ति Corona Positive, 40 हजार से ज्यादा मरे

इंग्लैंड में 1000 में से एक व्यक्ति Corona Positive, 40 हजार से ज्यादा मरे
प्रतीकात्मक तस्वीर (Reuters)

इंग्लैंड में 1,000 में से 1 व्यक्ति कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाया जा रहा है. शुक्रवार को एक अध्ययन में यह बात सामने आई कि लंदन में मई के आखिरी दो हफ्तों में लगभग 53,000 लोगों में से कोरोनो वायरस पाया गया था

  • Share this:
ब्रिटेन. इंग्लैंड में 1,000 में से 1 व्यक्ति कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाया जा रहा है. शुक्रवार को एक अध्ययन (Research) में यह बात सामने आई कि लंदन में मई के आखिरी दो हफ्तों में लगभग 53,000 लोगों में से कोरोनो वायरस पाया गया था लेकिन जिन लोगों का टेस्ट पॉजिटिव (Corona Positive) आया था उनमें से एक तिहाई से भी कम लोगों में कोरोना के लक्षण दिखाई दे रहे थे. घरों में रह रहे लगभग 20,000 लोगों पर हुए सर्वेक्षण में यह पाया गया कि केवल 21 लोगों को ही यह बीमारी थी.

29 फीसदी लोगों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने बताया कि अनुमान लगाया जा रहा है कि 17 मई से 30 मई 2020 के बीच किसी भी समय समुदाय के 0.1 फीसदी लोगों को कोविड-19 था. डेटा दिखाने वाले सकारात्मक लक्षणों में से केवल 29 प्रतिशत ने पॉजिटिव रिपोर्ट मिलने की सूचना दी.



ब्रिटेन में 40 हजार से अधिक मौतें



इंग्लैंड की आबादी सिर्फ 56 मिलियन से कुछ कम है. ब्रिटेन में अभी तक वायरस से लगभग 40,000 आधिकारिक मौतें दर्ज की गई हैं जिससे यह यूरोप में सबसे पहला और अमरीका के बाद दूसरा देश बन गया है. देश में 23 मार्च को लॉक डाउन घोषित हुआ और अभी हाल ही में कुछ प्रतिबंधों के साथ खोला गया है जिसमें बच्चों के स्कूल खोलना भी शामिल है. ONS ने पाया कि केवल 10 में से चार वयस्क अपने घर के बाहर सुरक्षित  महसूस कर रहे हैं. दूसरी ओर औसतन  तीन में दो माता-पिता बताते हैं कि वे अपने बच्चों को स्कूल भेजने को लेकर आश्वस्त नहीं हैं.

स्वास्थ्य कर्मचारियों में सबसे ज्यादा संक्रमण का खतरा

इस अध्ययन में बताया गया है कि हाल के हफ्तों में पॉजिटिव मामलों में कमी देखी गई है लेकिन फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कर्मचारियों और उन लोगों में संक्रमण की उच्च दर पाई गई. घरों से निकल कर जो काम कर रहे हैं उन लोगों में कोरोना का संक्रमण ज्यादा पाया जा रहा है. अध्य्यन में यह भी देखा गया कि जो लोग रोगियों के साथ काम कर रहे हैं या सामाजिक स्तर पर लोगों की देखभाल के काम से जुड़े हुए लोगों में 1.9 प्रतिशत लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए. वहीं दूसरी ओर सामान्य कामकाजी उम्र की आबादी का प्रतिशत 0.3 है. घर के बाहर काम करने वालों में पोस्टिव मामलों का 0.7 प्रतिशत है जबकि घर पर काम करने वालों के पॉजिटिव मामलों का प्रतिशत 0.2 है.

ये भी पढ़ें: फ्रांसीसी सैन्य बलों ने अलकायदा के उत्तर अफ्रीकी कमांडर द्रोउकदेल को मार गिराया

डोनाल्ड ट्रंप ने जर्मनी से अमेरिकी सैनिकों को वापस बुलाने का फैसला लिया
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading