ओसामा की भतीजी ने किया दावा, सिर्फ ट्रंप ही हमें 9/11 जैसे आतंकी हमलों से बचा सकते हैं

ओसामा की भतीजी ने किया दावा, सिर्फ ट्रंप ही हमें 9/11 जैसे आतंकी हमलों से बचा सकते हैं
ओसामा बिन लादेन की भतीजी नूर बिन लादिन ट्रंप को आतंकवाद से मुक्ति दिलाने वाला बताया

ओसामा के बड़े भाई यसलाम बिन लादिन की बेटी नूर बिन लादिन (Noor Bin Ladin) ने कहा कि दुनिया में सिर्फ एक ही आदमी ओसामा बिन लादेन से हमें बचा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2020, 7:31 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. कुख्यात आतंकवादी ओसामा बिन लादेन (Osama Bin Laden) की खुद की भतीजी ने एक चौंकाने वाला बयान जारी किया है. ओसामा के बड़े भाई यसलाम बिन लादिन की बेटी नूर बिन लादिन (Noor Bin Ladin) ने कहा कि दुनिया में सिर्फ एक ही आदमी ओसामा बिन लादेन से हमें बचा सकता है. इस बयान को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के मद्देनजर बहुत गंभीरता से लिया जा रहा है. नूर ने यह दावा किया है कि केवल डोनाल्ड ट्रंप ही अमेरिका को 9/11 जैसे हमले (Terrorist Attack) से बचा सकते हैं. नूर बिन लादेन ने आगे यह भी कहा कि अगर जो बाइडेन अमेरिका के राष्ट्रपति चुने जाते हैं तो 9/11 जैसा एक और हमला अमेरिका में हो सकता है. नूर ने ये बातें न्यूयॉर्क पोस्ट को दिए साक्षात्कार में कही है.

दो दशक में अमेरिका में चार हमलों को दे चुका है अंजाम

खूंखार आतंकी संगठन अलकायदा के आतंकवादियों ने 11 सितंबर 2001 को अमेरिका में 4 हमलों को अंजाम दिया था. इन हमलों में 2,977 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 25 हजार से ज्यादा लोग घायल हुए थे.



नूर बिन लादिन कौन है
नूर बिन लादिन, ओसामा बिन लादेन के बड़े भाई यसलाम बिन लादिन की बेटी हैं. यसमान की शादी प्रसिद्ध स्विस लेखक कारमेन ड्यूफोर के साथ हुई है. 1988 में यसमान और कारमेन का तलाक हो गया था. इस वाकये के बाद नूर बिन लादेन अपनी दो बहनों वफ़ा और नाजिया के साथ स्विट्जरलैंड में अपनी मां के साथ रहती हैं. यह परिवार ओसामा बिन लादेन से दूरी दिखाने के लिए अपने उपनाम को लादेन की जगह लादिन लिखता है.

ओसामा ने ओबामा और बाइडेन के कार्यकाल में यूरोप तक किया प्रसार

न्यूयॉर्क पोस्ट को दिए गए इंटरव्यू में ओसामा बिन लादेन की भतीजी नूर बिन लादिन ने कहा कि आईएसआईएस ने ओबामा और बाइडेन के कार्यकाल के दौरान प्रसार किया और वे यूरोप तक आ गए. ट्रंप ने दिखाया है कि वे अमेरिका और हमें विदेशी खतरों से बचा सकते हैं. वे आतंकवादियों को हमले का मौका मिलने से पहले ही उन्हें खत्म कर सकते हैं.

नूर ने कहा कि ट्रंप ही हमें आतंकवाद से बचा सकते हैं

नूर बिन लादिन ने कहा कि वह भले हीं स्विट्जरलैंड में रहती हैं, लेकिन वे दिल से खुद को अमेरिकी मानती हैं. उन्होंने यह भी कहा कि 12 साल की उम्र में ही उन्होंने अपने कमरे में अमेरिका का बड़ा झंडा लगाया था. उनका सपना छुट्टी के समय पूरे अमेरिका का आरवी ट्रिप करना है. उन्होंने कहा कि 2015 से ही वह ट्रंप की समर्थक रही हैं. मैं उनसे कभी नहीं मिली, मैंने उन्हें दूर से ही देखा है। मैं उनके संकल्प की प्रशंसा करती हूं.

ये भी पढ़ें: कोई भी कोरोना वैक्सीन 50% भी प्रभावी नहीं, अगले साल भी नहीं मिलेगी सभी को खुराक: WHO

US पूर्व राष्ट्रपति निक्सन ने भारतीयों को नपुंसक और महिलाओं को सबसे बदसूरत कहा था 

बाजवा ने करोड़ों डॉलर संपत्ति मामले में पीएम इमरान को सौंपा इस्तीफा, उन्होंने किया नामंजूर 

नूर बिन लादिन ने कहा कि ट्रंप को अमेरिका का दोबारा राष्ट्रपति चुना जाना चाहिए. ट्रंप का चुना जाना ना केवल अमेरिका, बल्कि पश्चिमी सभ्यता के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा कि आप पिछले 19 वर्षों में यूरोप में हुए सभी आतंकवादी हमलों को देखिए. इन घटनाओं ने हमें पूरी तरह से हिला दिया है. कट्टरपंथी इस्लाम ने हमारे समाज में गहरी पैठ बना ली है. अमेरिका में यह बहुत चिंताजनक है कि वामपंथियों ने उस विचारधारा को फैलाने वाले लोगों के साथ गठबंधन कर लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज