2022 तक भारत की इकोनॉमी को 5 ट्रिलियन डॉलर करना है लक्ष्य- पीएम मोदी

जी7 समिट में हिस्सा लेने फ्रांस पहुंचे भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- फ्रांस हमारा एक अहम दोस्त है और दोनों देशों के बीच सैकड़ाें साल पुराने संबंध हैं.

News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 5:28 AM IST
2022 तक भारत की इकोनॉमी को 5 ट्रिलियन डॉलर करना है लक्ष्य- पीएम मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि फ्रांस का यह दौरा मेरे लिए एक यादगार पल है.
News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 5:28 AM IST
जी 7 (G7) समिट में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने फ्रांस (France) को भारत (India) का एक अहम दोस्त बताया. इस दौरान उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध सैकड़ाें साल पुराना है. इस दौरान उन्होंने ग्लोबल चैलेंजेस से निपटने के लिए फ्रांस के सहयोग के लिए आभार भी जताया. उन्होंने कहा कि आज दोनों ही देशों के सामने आतंकवाद (Terrorism) एक बड़ा मुद्दा है लेकिन फ्रांस और भारत आपसी सहयोग से इस समस्या को भी हल कर लेंगे. इस दौरान उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रो को जी 7 समिट का नेतृत्व करने के लिए शुभकामनाएं भी दीं. इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि फ्रांस का यह दौरा मेरे लिए एक यादगार पल है.




5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी
पीएम मोदी ने कहा कि हमारे सामने सबसे बड़ा लक्ष्य आज यह है कि 2022 तक देश की अर्थव्यवस्‍था को 5 ट्रिलियन डॉलर की बनाया जाए. और आने वाले समय में हम इस लक्ष्य को पा भी लेंगे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि फ्रांस के साथ दिनों दिन अच्छे होते रिश्तों के साथ ही हमारे व्यापारिक रिश्तों में भी काफी इजाफा हुआ है. उन्होंने बताया कि अगले माह पहला राफेल विमान भी भारत पहुंच जाएगा. इसके साथ ही मोदी ने कहा कि इन दिनों दोनों तरफ से टूरिज्म में भी काफी इजाफा हुआ है. उन्होंने बताया कि 2.5 लाख से ज्‍यादा फ्रांसिसी पर्यटक हर साल भारत आ रहे हैं और लगभग 1.5 लाख भारतीय पर्यटक फ्रांस जा रहे हैं.
Loading...




स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम और रिसर्च को भी बढ़ावा
पीएम मोदी ने कहा कि आने वाले समय में फ्रांस के साथ स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम, रिसर्च, स्पेस रिसर्च, सैन्य परियोजनओं में और इजाफा किया जाएगा. इससे दोनों देशों के विकास के साथ ही आने वाले समय की चुनौतियों से निपटने में भी काफी आसानी होगी. इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनों देशों के सामने सबसे बड़ी समस्या आतंकवाद है और इससे निपटने के लिए हर तरह से प्रयास किए जा रहे हैं. ऐसे में फ्रांस और भारत के आपसी सहयोग के चलते इस समस्या को भी आसानी से खत्म करने का अनुमान है.

चंद्रयान की सफलता पर दी बधाई
इस दौरान फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रो ने भारत के चंद्रयान 2 की सफलता पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी और कहा कि यह एक बड़ा कदम था. इसके साथ ही मैक्रो ने पुलवामा हमले की निंदा की. साथ ही उन्होंने कश्मीर पर आर्टिकल 370 की बात पर कहा कि यह भारत का अंदरूनी मामला है, भारत पाकिस्तान के रिश्तों को लेकर मैक्रा ने कहा कि इस संबंध में किसी भी तीसरे पक्ष को बोलना उचित नहीं होगा. इस मसले पर दोनों देशों में आपसी बातचीत जरूरी है. उन्होंने मोदी को चुनावों में जीत की बधाई भी दी और साथ ही फ्रांस का हर तरह से सहयोग करने के लिए धन्यवाद भी प्रकट किया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 5:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...