Home /News /world /

पाकिस्तान के पंजाब में ‘इज्जत के नाम पर’ 6 महीने में 2,400 महिलाओं की इज्जत लूट ली, 90 को मार डाला, जानिए किसने किया खुलासा

पाकिस्तान के पंजाब में ‘इज्जत के नाम पर’ 6 महीने में 2,400 महिलाओं की इज्जत लूट ली, 90 को मार डाला, जानिए किसने किया खुलासा

लाहौर यूनिवर्सिटी में प्रबंधन-विज्ञान की प्रोफेसर निदा किरमानी भी मानती हैं, ‘दुख की बात है, लेकिन सच भी है. पाकिस्तान में ‘बलात्कार-संस्कृति’ हावी हो चुकी है.

लाहौर यूनिवर्सिटी में प्रबंधन-विज्ञान की प्रोफेसर निदा किरमानी भी मानती हैं, ‘दुख की बात है, लेकिन सच भी है. पाकिस्तान में ‘बलात्कार-संस्कृति’ हावी हो चुकी है.

Honor Killing and Rape in Punjab, Pakistan : पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग (HRCP) ने भी इन आंकड़ों में अगली कड़ी जोड़ी है. एचआरसीपी के मुताबिक पाकिस्तान में हर रोज बलात्कार के करीब 11 मामले सामने आते हैं. ये वे हैं, जिनकी रिपोर्ट लिखाई जाती है. जबकि बीते 6 साल में तो 22,000 ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं. एचआरसीपी की रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं का बलात्कार करने वालों को परिवार के भीतर से ही संरक्षण मिलता है. परिवार उन्हें कुछ कहने के बजाय पीड़ित लड़कियों को ही दोषी ठहराता है.

अधिक पढ़ें ...

लाहौर. पाकिस्तान (Pakistan) के हालात भयावह हैं. ताजा खबर इसकी मिसाल है. इसमें बताया गया है कि वहां बीते 6 महीनों में ही ‘परिवार की इज्जत’ के नाम पर 2,439 महिलाओं की इज्जत (Rape) लूट ली गई जबकि 90 महिलाओं को मौत के घाट उतार दिया गया. और ये आंकड़ा भी पूरे पाकिस्तान (Pakistan) का नहीं है, बल्कि वहां के बस पंजाब प्रांत (Punjab Province) का है. यह खुलासा भी किसी आम स्रोत से नहीं हुआ है. पंजाब सूचना आयोग (Punjab Information Commission) की ओर से ये आंकड़े जारी किए गए हैं. इसमें बताया गया है कि पंजाब की राजधानी लाहौर में ही करीब 400 महिलाओं के साथ बीते 6 महीने में बलात्कार हुआ. जबकि 2,300 से ज्यादा औरतें अगवा कर ली गईं. लाहौर (Lahore) की आबादी 11 करोड़ के करीब है.

अभी बीते हफ्ते ही लाहौर से करीब 200 किलोमीटर दूर सरगोधा जिले में एक युवक ने अपनी बहन को सिर्फ इसलिए मार दिया क्योंकि उसके साथ सामूहिक बलात्कार हुआ था. मारी गई 28 वर्षीय युवती 5 बच्चों की मां थी. उसके साथ पड़ोस के 4 युवकों ने बलात्कार किया. इस घटना से ‘परिवार की इज्जत’ पर दाग न लगे, इसलिए उसके भाई ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी. आरोपी ने पुलिस के सामने यह बात स्वीकार भी की है.

बीते 6 साल में 22,000 बलात्कार मगर आधा प्रतिशत भी दोषी नहीं
पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग (HRCP) ने भी इन आंकड़ों में अगली कड़ी जोड़ी है. एचआरसीपी के मुताबिक पाकिस्तान में हर रोज बलात्कार के करीब 11 मामले सामने आते हैं. ये वे हैं, जिनकी रिपोर्ट लिखाई जाती है. जबकि बीते 6 साल में तो 22,000 ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं. एचआरसीपी की रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं का बलात्कार करने वालों को परिवार के भीतर से ही संरक्षण मिलता है. परिवार उन्हें कुछ कहने के बजाय पीड़ित लड़कियों को ही दोषी ठहराता है. इसी वजह से ‘अब तक 22,000 मामलों में महज 77 मामले ही बलात्कार के ऐसे रहे, जिनमें आरोपियों को दोषी ठहराया गया. प्रतिशत के हिसाब से देखें को आरोपियों को दोषी बताए जाने की यह दर महज 0.3% है.’

इज्जत के नाम पर ‘बलात्कार-संस्कृति’, पाकिस्तान दुनिया में अव्व्ल
रिकॉर्ड बताते हैं कि पाकिस्तान (Pakistan) में इज्जत के नाम पर बलात्कार और हत्या के मामले दुनिया में सबसे ज्यादा होते हैं. और ये स्थिति भी उन मामलों के आधार पर है, जो किसी न किसी रूप में रिकॉर्ड में आ जाते हैं.

लाहौर यूनिवर्सिटी (Lahore University) में प्रबंधन-विज्ञान की प्रोफेसर निदा किरमानी भी मानती हैं, ‘दुख की बात है, लेकिन सच भी है. पाकिस्तान में ‘बलात्कार-संस्कृति’ हावी हो चुकी है. कई लोग इस दाग को धोने के लिए अपनी-अपनी तरह से काम कर रहे हैं. लेकिन यह बहुत मुश्किल और लंबी लड़ाई है.’

Tags: Hindi news, Honor killing, Pakistan, Rape

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर