PAK : क्‍वारंटाइन कैंप से भागने पर 50 हजार जुर्माना, कैद की सजा

PAK : क्‍वारंटाइन कैंप से भागने पर 50 हजार जुर्माना, कैद की सजा
क्‍वारंटाइन कैंप से दोबारा भागने पर छह महीने की कैद और एक लाख रुपये जुर्माना चुकाना होगा.

हाल में जारी अध्यादेश के मुताबिक क्‍वारंटाइन केंद्र से भागने पर दो महीने की कैद और 50,000 रुपये का जुर्माना अदा करना होगा. क्‍वारंटाइन कैंप से दोबारा भागने पर छह महीने की कैद और एक लाख रुपये जुर्माना चुकाना होगा. वहीं ऐसे व्यक्तियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को अधिकृत किया जाएगा.

  • Share this:
कराची. पाकिस्तान (Pakistan) के खैबर पख्तूनख्वा (Khyber Pakhtunkhwa) प्रांत में अब कोरोना (Corona Virus) से संक्रमित लोगों को क्‍वारंटाइन कैंप से भागने पर भारी जुर्माना अदा करना होगा. सूबे में 'एपिडेमिक कंट्रोल एंड इमरजेंसी रिलीफ आर्डिनेंस 2020' लागू कर दिया गया है. 12 मई को जारी इस अध्यादेश के मुताबिक क्‍वारंटाइन केंद्र से भाग जाने पर दो महीने की कैद और 50,000 रुपये का जुर्माना अदा करना होगा. 'उर्दू न्‍यूज' की खबर के हवाले से बताया गया है कि क्‍वारंटाइन कैंप से दोबारा भागने पर छह महीने की कैद और एक लाख रुपये जुर्माना चुकाना होगा. वहीं ऐसे व्यक्तियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस (Police) को अधिकृत किया जाएगा.

कोरोना संक्रमित लोगों को देनी होगी अपनी पूरी जानकारी
अध्यादेश के तहत अब यह भी जरूरी कर दिया गया है कि कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों को अपनी अन्‍य जानकारी समेत यह भी बताना जरूरी होगा कि वे किस-किस से मिले. वहीं इसके तहत ऐसे शिक्षण संस्थान जो 6 हजार से अधिक फीस वसूल करते हैं, अध्यादेश में कहा गया है कि महामारी में होने वाली अनुपस्थिति के लिए कर्मचारी को नौकरी से निकाला नहीं जाएगा. अगर वहीं उसकी नौकरी के मुताबिक हो कि वह घर से काम करे, तो उसे इसकीअनुमति दी जाएगी.

कोई भी मकान मालिक किरायेदार को घर से नहीं निकालेगा. हालांकि मकान मालिक के बुजुर्ग होने, विधवा या कम उम्र अनाथ होने पर यह खंड लागू नहीं होगा. कोरोना से प्रभावित 80 गज के घर के लोगों से पानी का बिल नहीं लिया जाएगा. वहीं 800 वर्ग फीट के फ्लैटों के मालिकों को पानी के बिल का भुगतान करने से छूट दी जाएगी. वहीं महामारी के दिनों में स्थानीय चुनाव संभव नहीं होंगे. गौरतलब है कि पाकिस्‍तान में कोरोना का कहर लगातार जारी है. फरवरी में इसका पहला केस सामने आने के बाद से लगातार मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में सूबे की सरकारें अपने सूबों में इस वायरस की रोकथाम के लिए कई तरह के उपाय अपना रही हैं.



ये भी पढ़ें -सऊदी अरब के मुफ्ती ने ईद की नमाज को लेकर दिया यह बड़ा बयान



             अजब-गजब! कुछ नहीं मिला तो सिर पर तरबूज पहन कर ही लूट ली दुकान

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading