PAK : विमान हादसे पर भी सियासी रुत्‍बा, बिना पहचान के ही ले गए 36 शव

ईधी फाउंडेशन के प्रमुख फैसल ईधी ने शवों को बिना पहचान के ही ले जाने की बात कही है.
ईधी फाउंडेशन के प्रमुख फैसल ईधी ने शवों को बिना पहचान के ही ले जाने की बात कही है.

फैसल ईधी ने कहा कि परिजन बिना किसी अनुमति पत्र के ही जबरदस्‍ती शव ले जा रहे हैं. हालांकि इनकी अभी तक शिनाख्‍त तक नहीं हो पाई है. ईधी फाउंडेशन के प्रमुख ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि मारे गए लोगों के परिवार वाले मोर्चरी में हंगामा मचाते हैं और खुद ही शवों की पहचान करके अपने साथ लिए जा रहे हैं.

  • Share this:
कराची. पाकिस्‍तान (Pakistan) में पीआईए (PIA) विमान दुर्घटना में मारे गए यात्रियों के शवों की अभी पहचान भी नहीं हो पाई है, मगर इससे पहले ही कई परिवारों के लोग बिना पुष्टि के ही मुर्दाघर से अपने प्रियजनों के शवों को जबरन ले गए. 'एआरवाई न्यूज' की रिपोर्ट के मुताबिक कराची (karachi) विमान हादसे में मारे गए 36 यात्रियों के परिजन बिना पहचान के ही शवों को अपने साथ ले गए. ईधी फाउंडेशन (Edhi Foundation) के प्रमुख फैसल ईधी ने शवों को बिना पहचान के ही ले जाने की बात कही है.

'बीबीसी' से बात करते हुए फैसल ईधी ने कहा कि परिजन बिना किसी अनुमति पत्र के ही जबरदस्‍ती शव ले जा रहे हैं. हालांकि इनकी अभी तक शिनाख्‍त तक नहीं हो पाई है. ईधी फाउंडेशन के प्रमुख ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि मारे गए लोगों के परिवार वाले मोर्चरी में हंगामा मचाते हैं और खुद ही शवों की पहचान करके अपने साथ लिए जा रहे हैं.

सूबे की सरकार को मामले की जानकारी ही नहीं
दूसरी ओर सिंध सरकार ने इस मुद्दे पर कहा है कि उसे मामले की जानकारी नहीं है. वहीं पीआईए का कहना है कि विमान हादसे में मरने वालों की तादाद 97 है. मिलने वाले शवों में 94 शव पूरे हैं. तीन के अवशेष मिले हैं. इसके अलावा 35 शव पहचानने में आ रहे हैं, लेकिन 30 की पहचान नहीं पहचाने जा सके. प्रवक्ता के अनुसार पीआईए ने शोक संतप्त परिवारों को चार अंतरराष्ट्रीय और 37 घरेलू टिकट जारी किए हैं. अब तक चार शव लाहौर और तीन इस्लामाबाद पहुंचाए जा चुके हैं. वहीं 51 शव परिवारों को सौंप दिए गए हैं. गौरतलब है कि कराची विमान दुर्घटना में 97 यात्री मारे गए थे, जबकि 2 यात्री चमत्कारिक रूप से बच गए थे. मृतक यात्रियों के शव उनके परिवारों को सौंपे जा रहे हैं.
ये भी पढ़ें - पाकिस्‍तान में कोरोना के दौरान हुई शादी, दूल्हा गया जेल, बाराती क्‍वारंटाइन



                   चीन : कोविड-19 से हुई मालिक की मौत, तीन महीने तक इंतजार करता रहा कुत्ता

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज