पाकिस्तान में बंद होंगे 18 अंतरराष्ट्रीय सहायता समूह, बढ़ेंगी जरूरतमंदों की दिक्कतें

पाकिस्तान की नई सरकार की फाइल फोटो

प्लान इंटरनेशनल के कंट्री निदेशक इमरान युसूफ शामी ने बताया कि संगठनों को अपना कामकाज समेटने के लिए 60 दिनों का समय दिया गया है.

  • Share this:
    पाकिस्तान ने 18 अंतरराष्ट्रीय सहायता संगठनों को बंद करने के आदेश दिए हैं, जिससे देश के उन सबसे जरूरतमंद लोगों के सामने सहायता मिलने का खतरा पैदा हो गया है जिन्हें ये संगठन मदद उपलब्ध कराते थे. अंतरराष्ट्रीय सहायताकर्मियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

    सरकार की एक लिस्ट के अनुसार जिन सहायता समूहों को बंद करने के आदेश दिए गए हैं, उनमें से ज्यादातर अमेरिका के हैं, जबकि बाकी ब्रिटेन के हैं. जिन सहायता समूहों को बंद करने के आदेश दिए गए हैं, उनमें वर्ल्ड विजन यूएस, कैथोलिक रिलीफ सर्विस यूएस, इंटरनेशनल रिलीफ और डेवल्पमेंट यूएस, एक्शनएड यूके और डेनिश रिफ्यूजी काउंसिल, डेनमार्क जैसे समूह शामिल हैं.

    हालांकि पाकिस्तान की नई सरकार से इस संबंध में न तो कोई आधिकारिक स्पष्टीकरण आया है और न ही गृह मंत्रालय द्वारा इससे संबंधित सवालों का कोई जवाब दिया गया है. सूचना मंत्रालय और विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया के लिए मीडिया के सवालों का कोई जवाब नहीं दिया.

    प्लान इंटरनेशनल के कंट्री निदेशक इमरान युसूफ शामी ने बताया कि संगठनों को अपना कामकाज समेटने के लिए 60 दिनों का समय दिया गया है. प्लान इंटरनेशनल जिसका हेड ऑफिस ब्रिटेन में है, को उसके पंजीकरण से इनकार करने के बारे में बताया गया है. यह एक वैश्विक संगठन है जो शिक्षा और बच्चों के अधिकारों पर ध्यान केंद्रित करता है. शामी ने कहा कि इन समूहों के बंद होने से पाकिस्तान के जरूरतमंद लोगों को ठेस पहुंचेगी.

    ये भी पढ़ें- भारत के लिए ईरानी तेल का विकल्प खोजने में जुटा अमेरिका

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.