अपना शहर चुनें

States

पाकिस्तान सेना ने आतंकवाद के खिलाफ छेड़ा अभियान, 7 दिन में दो को मार गिराया

पाकिस्तान सेना ने आतंकवाद के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पाकिस्तान सेना ने आतंकवाद के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) ने उत्तरी वजीरिस्तान में 2 आतंकवादियों (Two Terrorist) को मार गिराया है. पाकिस्तान सेना ने इन दिनों आतंकवाद के सफाया के लिए अभियान चलाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 5, 2020, 6:50 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) ने उत्तरी वजीरिस्तान (North Wazirasitan) में 2 आतंकवादियों (Two Terrorist) को मार गिराया है. पाकिस्तानी सेना ने एक बयान में बताया है कि उसने रविवार को देश के उत्तर-पश्चिम में दो आतंकवादियों को मार गिराया है. यह जगह पूर्व में उग्रवाद का गढ़ रही है. सेना के इस ऑपरेशन के बाद उत्तरी वजीरिस्तान जिले के मीर अली शहर में तीसरे आतंकवादी को गिरफ्तार कर लिया गया. सेना के बयान में यह भी कहा गया है कि ये आतंकवादी नागरिकों और सुरक्षा बलों पर हुए कई हमलों में शामिल रहे थे. हाल के दिनों में उत्तरी वज़ीरिस्तान में इस तरह का यह दूसरा ऑपरेशन था जिसमें शुक्रवार को मीर अली के उत्तर में लगभग 6 किलोमीटर दूर पर सेना ने दो आतंकवादियों को मार गिराया.

क्या पकिस्तान में तालिबान फिर से उबर रहा है

कुछ साल पहले तक अफगानिस्तान से सटी पाकिस्तान की सीमा पर खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के पहाड़ी इलाके पाकिस्तानी तालिबान और अन्य आतंकवादियों का कैंप हुआ करता था. फिलहाल पाकिस्तानी सेना दावा कर रही है कि उसने विद्रोहियों के इस इलाके से तालिबानियों और आतंकवादियों का सफाया कर दिया है. यदा कदा हमले अभी भी जारी हैं लेकिन इस तरह के हमलों से यह आशंका बढ़ गई है कि पाकिस्तानी तालिबान फिर से संगठित हो रहे हैं. पिछले महीने विद्रोहियों ने एक बयान जारी करके प्रान्त के निवासियों से प्रांत के पूर्व आदिवासी क्षेत्रों को खाली करने के लिए कहा. यह आदेश इस समूह ने सुरक्षा बलों पर और हमले शुरू करने की योजना के चलते दिया था.



तलाशी अभियान में दो पाकिस्तानी सैनिक मारे गए
सितंबर में उत्तरी वजीरिस्तान में एक तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों के साथ हुई गोलीबारी में दो पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे. इससे पहले सितंबर महीने में ही पाकिस्तानी तालिबान ने इसी जिले में एक सड़क के किनारे जबरदस्त बमबारी की और उसकी भी जिम्मेदारी ली थी. इस बमबारी में एक सैन्य वाहन को निशाना बनाया गया था जिसमें तीन पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे और चार घायल हुए थे.

ये भी पढ़ें: US: चोरी कर eBay पर सामान बेचती थी बुढ़िया, भारी जुर्माने के साथ हुई जेल

ऑस्ट्रेलिया: युवती के सिर में होता था तीखा दर्द, टेस्ट में पता चला कीड़े ने दिए अंडे

पाकिस्तानी तालिबान को तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के रूप में भी जाना जाता है. तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान अफगान तालिबान से एक अलग विद्रोही समूह है.हालांकि पाकिस्तान के आतंकवादी समूहों के तार सीमा पार अफगानिस्तानी आतंवादी समूहों से जुड़े रहते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज