लाइव टीवी

पाकिस्‍तान में 'मजार एक काएद' पर टिकटॉक वीडियो बनाने वाला ग्रुप गिरफ्तार

News18Hindi
Updated: February 26, 2020, 4:53 PM IST
पाकिस्‍तान में 'मजार एक काएद' पर टिकटॉक वीडियो बनाने वाला ग्रुप गिरफ्तार
मजार-ए-काएद' पाकिस्‍तान के संस्‍थापक मुहम्‍मद अली जिन्ना का मकबरा है. इसे राष्ट्रीय मकबरा भी कहा जाता है. फोटाे साभार/ ट्विटर

हाल में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें एक लड़की 'मजार-ए-काएद' के सामने नृत्‍य कर रही थी. लड़की के चेहरे पर नकाब होने की वजह से उसकी पहचान नहीं हो पा रही थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2020, 4:53 PM IST
  • Share this:
कराची. 'मजार-ए-काएद' (Mazar-e-Quaid) पर डांस का टिकटॉक वीडियो बनाने वाला ग्रुप
गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस के मुताबिक ग्रुप को असद नाम का एक युवक चलाता है, यह ग्रुप 'मजार-ए-काएद' पर टिकटॉक (TikTok) वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर लोड करता था.

दरअसल, 'मजार-ए-काएद' पाकिस्‍तान के संस्‍थापक मुहम्‍मद अली जिन्ना का मकबरा है. इसे राष्ट्रीय मकबरे के नाम से भी जाना जाता है. जानकारी के मुताबिक 'मजार-ए-काएद' पर डांस का वीडियो बनाने वाले इस ग्रुप के सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. दरअसल, कराची में 'मजार-ए-काएद' के मैनेजमेंट बोर्ड ने मामले का पता लगते ही इस पर एक्‍शन लेने को कहा था. इसी के बाद इस ग्रुप को गिरफ्तार किया गया.

गौरतलब है कि दो दिन पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें एक लड़की 'मजार-ए-काएद' के सामने संगमरमर से बने फर्श पर नृत्‍य कर रही थी. लड़की के चेहरे पर नकाब होने की वजह से उसकी पहचान नहीं हो पा रही थी. हालांकि नकाबपोश लड़की की कई और वीडियो भी वायरल हुई हैं. इस वीडियो में गीत की आवाज भी सुनाई दे रही है. इस वीडियो को फिल्‍माने के दौरान अन्‍य लोग भी वहां मौजूद थे.

वहीं इस मामले में स्‍थानीय लोगों का कहना था कि आजकल इस तरह के वीडियो बनाने का मामला इतना गंभीर है कि इसमें अब पाकिस्‍तान के संस्‍थापक के मजार को भी नहीं बख्‍शा गया, जो कि एक दुखद पहलू है. वहीं सोशल मीडिया पर मौजूद वीडियो हटाने और इस मामले की जांच के लिए 'मजार-ए-काएद' के प्रबंधन ने एफआईए से आग्रह करने का फैसला किया है.

ये भी पढ़ें - विदेशी निवेशकों को पाकिस्‍तान में पूरा सहयोग दिया जाएगा : इमरान खान

              पाकिस्‍तान को 'ग्रे लिस्‍ट' में रखने को अंतरराष्‍ट्रीय साजिश करार दिया गया

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 26, 2020, 4:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर