अब अफगानिस्‍तान तक जाएगा चीन-पाकिस्‍तान का आर्थिक गलियारा

लगभग 50 अरब डॉलर के लागत से बनने वाले इस आर्थिक गलियारे को अब अफगानिस्तान तक बनाया जाएगा ताकि इसका लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिल सके.

Anoop Padey | भाषा
Updated: September 10, 2018, 7:10 PM IST
अब अफगानिस्‍तान तक जाएगा चीन-पाकिस्‍तान का आर्थिक गलियारा
सांकेतिक तस्‍वीर
Anoop Padey | भाषा
Updated: September 10, 2018, 7:10 PM IST
चीन की महत्वाकांक्षी परियोजना चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा ( सीपीईसी ) की पहुंच अब अफगानिस्तान तक होगी. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने सोमवार को बताया कि विदेश मंत्री वांग की इस्लामाबाद यात्रा के दौरान सीपीईसी परियोजना को तेजी से आगे बढ़ाने और इसका विस्तार अफगानिस्तान तक करने पर सहमति बनी है.

इमरान खान की अगुवाई वाली नई सरकार से तालमेल बिठाने के लिए चीन के विदेश मंत्री वांग 7 से 9 सितंबर तक पाकिस्तान दौरे पर थे. अपनी इस्लामाबाद यात्रा के दौरान वांग ने इमरान खान की अगुवाई वाली नई सरकार से विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की.

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने मीडिया को बताया कि विदेश मंत्री की यात्रा का मकसद नई सरकार के साथ विचारों को साझा करना था. उन्होंने बताया कि इस दौरान दोनों पक्षों में चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे ( सीपीईसी ) को विस्तार देने पर सहमति बनी है. लगभग 50 अरब डॉलर के लागत से बनने वाले इस आर्थिक गलियारे को अब अफगानिस्तान तक बनाया जाएगा ताकि इसका लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिल सके.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर