Masood Azhar पर बैन के बाद खिसियाया पाकिस्तान बोला- हम आतंकवाद के खिलाफ

डॉन के अनुसार पाक विदेश कार्यालय के प्रवक्ता ने कहा कि ' मसूद अजहर पर लगा यह बैन, विदेशी यात्रा, संपत्तियों की कुर्की और शस्त्र के मामले पर लागू होगा.'

  • Share this:
संयुक्त राष्ट्र द्वारा मसूद अजहर को प्रतिबंधित करने पर पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने टिप्पणी की है. पाक के अंग्रेजी अखबार Dawn के अनुसार विदेश कार्यालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल ने कहा, 'पहले मसूद अजहर को प्रतिबंधित करने के प्रस्तावों में तकनीकी मानदंडों का अभाव था. वे पाकिस्तान को बदनाम करने और कश्मीर में आंदोलन को बाधित करने के उद्देश्य से किए गए थे और इसलिए उन्हें पाकिस्तान द्वारा खारिज कर दिया गया. उन प्रस्तावों में राजनीतिक एजेंडा भी था.'

डॉन के अनुसार विदेश कार्यालय के प्रवक्ता ने कहा कि 'यह बैन, विदेशी यात्रा, संपत्तियों की कुर्की और शस्त्र के मामले पर लागू होगा.

यह भी पढ़ें: हिज्बुल से लश्कर तक, पाकिस्तान में कितने वैश्विक आतंकी संगठन मौजूद?



फैसल ने कहा कि पाकिस्तान हमेशा से यह मानता रहा है कि आतंकवाद दुनिया के लिए खतरा है. फैसल ने दावा किया कि पाकिस्तान ने हमेशा इसकी कोशिश की है कि तकनीकी नियमों का पालन हो और कमिटी (UNSC) का राजनीतिकरण होने से बचे.'
यह भी पढ़ें: ग्लोबल आतंकी मसूद अजहर के बारे में दस खास बातें

बता दें  आतंकी अजहर को प्रतिबंधित करने पर संयुक्त राष्ट्र की समिति ने कहा- 'सुरक्षा परिषद समिति 1267 (1999), 1989 (2011) और 2253 (2015) आईएसआईएल (Da'esh), अल-कायदा, और संबंधित व्यक्तियों, समूहों, उपक्रमों और संस्थाओं से संबंधित प्रस्तावों के अनुसार, प्रतिबंधित करने की मंजूरी देती है.'

यह भी पढ़ें: क्या होता है ग्लोबल आतंकी, कब तक मसूद अजहर को बचा सकता है पाकिस्तान
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading