आर्टिकल 370 हटाने पर बौखलाया पाकिस्तान, कहा- कश्मीर पर एकतरफा फैसला

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र सिक्योरिटी काउंसिल (UNSC) में जम्मू-कश्मीर की स्थिति को विवादास्पद माना गया है. लिहाजा भारत सरकार का ये एकतरफा फैसला है और ये जम्मू-कश्मीर और पाकिस्तान के लोगों को स्वीकार नहीं है.'

News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 8:21 PM IST
आर्टिकल 370 हटाने पर बौखलाया पाकिस्तान, कहा- कश्मीर पर एकतरफा फैसला
भारत के कदम के बाद पाक पीएम इमरान खान ने संसदीय समिति की बैठक बुला ली है.
News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 8:21 PM IST
मोदी सरकार ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर को लेकर ऐतिहासिक ऐलान किया. सरकार ने जम्मू-कश्मीर को स्पेशल स्टेटस देने वाले संविधान के आर्टिकल 370 और 35A को खत्म कर दिया है. जम्मू-कश्मीर को अब केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है. लद्दाख को भी कश्मीर से अलग कर केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया है. गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में कश्मीर को लेकर तीन बड़े ऐलान किए.

मोदी सरकार के इस फैसले पर दुनिया भर से प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. सबसे ज्यादा हलचल पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में देखी जा रही है. पाकिस्तान ने आर्टिकल 370 पर मोदी सरकार के कदम का विरोध किया है. कोई भी एकतरफा कदम कश्मीर का 'स्टेटस' नहीं बदल सकता. इस बीच कश्मीर के मौजूदा हालात पर चर्चा के लिए पाकिस्तान असेंबली ने मंगलवार को ज्वॉइंट सेशन भी बुलाया है.

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए कहा, 'संयुक्त राष्ट्र सिक्योरिटी काउंसिल (UNSC) में जम्मू-कश्मीर की स्थिति को विवादास्पद माना गया है. लिहाजा भारत सरकार का ये एकतरफा फैसला है और ये फैसला जम्मू-कश्मीर और पाकिस्तान के लोगों को स्वीकार नहीं है.'

यह भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर का 'स्पेशल स्टेटस' हटाने में यूं मददगार बना राज्यपाल शासन

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के बयान के मुताबिक, कश्मीर विवाद के दूसरे पक्ष के रूप में पाकिस्तान आर्टिकल 370 को खत्म करने वाले भारत के इस फैसले को काउंटर करने के लिए हर संभव कानूनी कदम उठाएगा. पाकिस्तान कश्मीर को लेकर अपने संकल्प पर आज भी कायम है. कश्मीर के राजनीतिक, लोकतांत्रिक और नैतिक विकास के लिए हम लड़ते रहेंगे.'

35-A-1
कश्मीर में सात दशक बाद बड़ा फैसला हुआ है.


PML-N ने कहा- मोदी सरकार का ये कदम UN के खिलाफ
Loading...

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) के चेयरमैन और नेता विपक्ष शहबाज शरीफ ने मोदी सरकार के इस फैसले को संयुक्त राष्ट्र संघ के खिलाफ करार दिया है. शहबाज ने कहा, 'कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म करना असंवैधानिक है. ये संयुक्त राष्ट्र के प्रति 'एक तरह से राजद्रोह' है, जिसे किसी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जा सकता.'

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के चेयरमैन शहबाज शरीफ ने ये भी कहा कि भारत में मोदी सरकार ने आर्टिकल 370 को हटाने का जो फैसला लिया है, वो सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन भी है.

यह भी पढ़ें- OPINION: अब ये मोदी-शाह का कश्मीर है, फिज़ा बदलने वाली है

बिलावल ने कहा- भारत में चरमपंथी सरकार
वहीं, पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के बेटे बिलावल भुट्टो ने भी कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाने को लेकर प्रतिक्रिया दी है. बिलावल ने कहा- 'कश्मीर में आर्टिकल 370 खत्म करके चरमपंथी भारत सरकार ने अपने इरादे साफ कर दिए हैं.' पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के चेयरमैन ने ट्वीट किया, 'चरमपंथी भारत सरकार के इरादे स्पष्ट हैं. राष्ट्रपति को तुरंत कश्मीर में आक्रामकता के मद्देनजर संसद का संयुक्त सत्र बुलाना चाहिए.'

Holding images
जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अब अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बन गए हैं.


आज कश्मीर को लेकर क्या हुआ?
गृहमंत्री अमित शाह ने आज राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर को लेकर सरकार का संकल्प पत्र पेश किया. शाह ने कहा कि कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 में बड़ा बदलाव किया है. अब सिर्फ आर्टिकल 370 का खंड A लागू रहेगा. बाकी खंड तुरंत प्रभाव से खत्म कर दिए गए हैं. गृहमंत्री ने इसके साथ ही आर्टिकल 35A भी हटाए जाने का ऐलान किया. शाह ने कश्मीर के पुनर्गठन प्रस्ताव भी पेश किया है. अब जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश होगा, जबकि लद्दाख को भी अलग कर केंद्रीय शासित प्रदेश बनाया गया है.

यह भी पढ़ें- जानें कश्मीर का वो हिस्सा कैसा है, जिस पर पाकिस्तान का कब्ज़ा है

कांग्रेस का आरोप-सरकार ने देश का सिर काटा
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने के केंद्र सरकार के कदम की कांग्रेस ने आलोचना की है. राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी की सरकार ने देश का सिर काट लिया है और यह भारत के साथ गद्दारी है. गुलाम नबी आजाद ने यह भी कहा कि सरकार ने चीन और पाकिस्तान की सीमा से लगे संवेदनशील राज्य के साथ खिलवाड़ किया है, जिसका उनकी पार्टी और दूसरे विपक्षी दल पुरजोर विरोध करेंगे.

यह भी पढ़ें- सरकार ने ऐसे कसी आर्टिकल 370 पर लगाम, इन प्रावधानों में किया संशोधन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 3:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...