भारत और पाकिस्तान में एक जैसी रफ्तार से बढ़ रहा है कोरोना, देखें दोनों में समानताएं

भारत और पाकिस्तान दोनों ही कोरोना वायरस के एक्टिव केस के मामले में टॉप-10 में हैं.  (सांकेतिक तस्वीर)
भारत और पाकिस्तान दोनों ही कोरोना वायरस के एक्टिव केस के मामले में टॉप-10 में हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

भारत सरकार ने गुरुवार को बताया कि देश में पिछले 24 घंटे में 7466 केस सामने आए और 175 मौतें हुईं. यह एक दिन में सबसे अधिक केस हैं. इसी दिन पाकिस्तान में भी कोरोना से सबसे अधिक 63 मौतें दर्ज की गईं.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत (India) और पाकिस्तान (Pakistan) दो ऐसे पड़ोसी हैं, जिनमें अक्सर तुलना होती है. फिर कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले में ऐसा क्यों ना हो. वैसे तो पाकिस्तान ज्यादातर मामलों में भारत की तुलना में फिसड्डी है. लेकिन कोविड-19 (Covid-19) के मामले में दोनों देशों में गजब की समानताएं दिख रही हैं. गुरुवार के आंकड़े इस समानता को समझाने के लिए काफी हैं. भारत में इस दिन रिपोर्ट आई कि पिछले 24 घंटे में देश में सबसे अधिक नए केस सामने आए हैं और मौतें भी 175 हुई हैं. इसी दिन पाकिस्तान में भी कोरोना से सबसे अधिक 63 मौतें दर्ज की गईं और 2000 से अधिक केस सामने आए.

वर्ल्डमीटरर्स वेबसाइट के मुताबिक भारत में गुरुवार रात 12 बजे तक कोरोना वायरस के कुल 1.73 लाख मामले सामने आ चुके थे. जबकि पाकिस्तान में इस वक्त तक कुल 64,048 केस थे. दोनों देशों के कुल केस में बड़ा अंतर है. लेकिन जब हम दो देशों की तुलना कर रहे हैं तो उनकी आबादी का ख्याल भी रखना होगा. साथ ही यह देखना होगा कि दोनों देश में एक्टिव केस कितने हैं या कितने लोग वायरस से उबरकर स्वस्थ हो चुके हैं. दोनों देशों में जांच की हालत क्या है. जब आप ये तुलना करेंगे तो दोनों देश पास-पास खड़े नजर आएंगे.

कुल केस में दोनों देश टॉप-20 में
भारत और पाकिस्तान दोनों ही देश कोरोना के सबसे अधिक केस के मामले में टॉप-20 में हैं. भारत तो ऐसे देशों की सूची में नौवें स्थान पर है और वह तेजी से आठवें नंबर की ओर बढ़ रहा है. वह रविवार को आठवें नंबर पर पहुंच सकता है. पाकिस्तान का नंबर 18वां है. वह भी अगले स्पताह तक 15वें नंबर तक पहुंच सकता है.
यह भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप का बड़ा ऐलान, अमेरिका ने WHO को छोड़ा, कहा- इस पर चीन का कब्जा



एक्टिव केस में दोनों देश टॉप-10 में
भारत और पाकिस्तान दोनों ही कोरोना के एक्टिव केस के मामले में टॉप-10 में हैं. भारत इस लिस्ट में पांचवें स्थान पर है. भारत में फिलहाल 86 हजार से अधिक एक्टिव केस हैं. पाकिस्तान में इस समय 40 हजार एक्टिव केस हैं. वे एक्टिव केस के मामले में दुनिया में 10वें नंबर पर है.

मृत्युदर में भी आसपास हैं दोनों
वर्ल्डमीटरर्स के मुताबिक गुरुवार देर रात तक भारत में 4980 और पाकिस्तान में 1317 लोग कोविड की वजह से जान गंवा चुके थे. टेस्ट की तरह यदि हम इन आंकड़ों को प्रति 10 लाख की आबादी पर देखें तो पाएंगे कि भारत-पाकिस्तान यह भी आसपास ही हैं. प्रति 10 लाख की आबादी पर भारत में 4 और पाकिस्तान में 6 लोगों की जान गई है. टॉप-20 में सिर्फ तीन देश ही हैं, जहां प्रति 10 लाख आबादी पर 10 से कम लोगों की जान गई है. तीसरा देश चीन है.

यह भी पढ़ें: पाकिस्‍तान में 1 किलो टिड्डी पकड़ने पर मिल रहे 20 रुपये, बनाया जा रहा चिकन फीड

जांच में भी है समानता
भारत अब तक 34.83 लाख टेस्ट कर चुका है. पाकिस्तान ने 5.20 लाख टेस्ट किए हैं. यानी, भारत अपने पड़ोसी देश से छह गुना से ज्यादा टेस्ट कर चुका है. लेकिन जब हम जांच के आंकड़े प्रति 10 लाख आबादी पर देखते हैं तो पाते हैं दोनों देश बराबरी पर खड़े हैं. भारत ने प्रति 10 लाख लोगों पर 2527 टेस्ट किए हैं तो पाकिस्तान ने 2359 टेस्ट किए हैं. टॉप-20 देशों में 17 देशों का औसत प्रति 10 लाख 10 से लेकर 72 हजार तक है.

सरकार पर सवाल खड़े कर रहा विपक्ष
भारत और पाकिस्तान दोनों ही देशों में विपक्ष सरकार पर कोरोना वायरस को नियंत्रित करने में नाकाम रहने का आरोप लगा रहा हे. पाकिस्तान के प्रमुख अखबार में विपक्षी नेताओं के हवाले से खबर लगी कि सरकार जो भी निर्देश दे रही है, उसका उल्टा असर हो रहा है और इससे भ्रम फैल रहा है. भारत में भी विपक्ष लगातार कह रहा है कि सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर देरी से निर्णय लिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज